जेल में भी टाइगर ने दिखाया दबंगई




जोधपुर कोर्ट ने भले ही टाइगर यानि की सलमान खान को काले हिरन केस मामले में 5 साल की सजा सुना जेल भेज दिया हो लेकिन भाई का जलवा जेल में भी कम नहीं हुआ है। इस बात की पुष्टि समाचार एजेंसी एएनआई के द्वारा ट्वीट की गई सलमान खान की जोधपुर जेल से होती है। जहाँ दबंग रूप में कुछ पुलिस वाले के साथ कुर्सी पर बैठे दिख रहे हैं, ऐसा लगता है कि कुछ हुआ ही नहीं है। सलमान खान के इस तस्वीर से सरकार के दावों पर भी सवाल उठा रही है, जिनमें न सरकारी दावों पर भी सवाल उठा रही है, जिनमें एक कैदी के साथ कैदियों जैसा व्यवहार करने की बातें हुईं। salman khan jodhpur jail

सलमान खान कुछ पुलिस वाले के साथ घिरे दिख रहे है। salman khan jodhpur jail

सलमान खान इस तस्वीर में कुर्सी पर बॉस की तरह बड़े ही आराम से है। इस तस्वीर में सलमान खान कुछ पुलिस वाले के साथ घिरे दिख रहे है। जबकि अन्य पुलिस वाले सलमान खान के स्टारडम की चिंता में दिख रहे है और खुद को भाग्यशाली समझ रहे है कि उनके साथ सलमान खान बैठे है। salman khan jodhpur jail

सलमान को हुआ 5 साल की सजा, जाएंगे जेल

बता दें, जोधपुर कोर्ट ने काले हिरन केस मामले में सलमान खान को दोषी ठहराते हुए 5 साल की सजा सुनाया है। जबकि सह आरोपियों में अभिनेता सैफ अली खान, अभिनेत्री तबू, नीलम और सोनाली बेंद्रे के नाम शामिल थे, जिन्हें बरी कर दिया गया। salman khan jail stardom 

सलमान खान ने फिल्म बॉडीगार्ड में एक डायलॉग बोला था कि मुझ पर एक एहसान करना कि मुझ पर कोई अहसान न करना। काले हिरन केस में जोधपुर कोर्ट के जज ने सलमान खान के इस डायलॉग को दिल से ले लिया और नतीजा आप सबके सामने है। जोधपुर कोर्ट ने सलमान खान को काले हिरन केस मामले में पांच साल की सजा सुना दी। हालांकि, सजा सुनने के बाद सलमान खान को याद आया कि मेरी बिल्ली मुझे ही म्याऊँ वाली कहावत चरितार्थ साबित हो गया। salman khan jodhpur jail

अब क्या सलमान खान खुद कन्फुज़ हो गए कि जज साहब से क्या कहु कि जज साहब मैं अपना डायलॉग वापस लेता हूँ आप जजमेंट वापस ले लीजिए। लेकिन कहते भी कैसे क्योंकि सलमान खान ने एक और डायलॉग वांटेड में कहा था कि एक बार जब मैं कमिटमेंट कर लेता हूँ फिर अपनी भी नहीं सुनता है। इसलिए सल्लू मियां चुप रहे और कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए सीधे जेल जा पहुंचे। जहाँ पहले से ऐसी खबर आ रही थी कि सल्लू मियां आशाराम बाबू के बगल वाले बैरक में रात गुजारेंगे।

खबर सच्ची हुई और जेल प्रशासन ने उन्हें आशाराम बाबू के बगल वाले बैरक में ही रखने का फैसला लिया । फिर क्या था सलमान खान जेल पहुँचते ही सीधे आसाराम बाबू के पास आशीर्वाद लेने पहुँच गए। जहाँ बापू ने कहा कि हम साथ साथ है। बता दें, आसाराम बापू से आशीर्वाद लेने उनके अनुयायी हर पूर्णिमा पर जेल के बाहर इकठ्ठा होकर जेल की दीवार को छूकर आशीर्वाद लेते है। अब देखना यह है कि सलमान खान के जीवन में आसाराम बापू के आशीर्वाद से कितना बदलाव आता है। salman khan jodhpur jail

गर्मी में पेट में जलन और खट्टी डकार का घरेलु इलाज