जीका वायरस ने अमेरिका को हिलाया जानिए क्या है जीका वायरस ?




आज विश्व जितनी तेजी से आगे बढ़ रहा है समस्याएं भी उतनी तेजी से बढ़ रही है। एक तरफ प्रतिस्पर्धा के दौर में सभी देश अत्य आधुनिक हथियार बनाने में मशगूल है। वही इस तरह के प्रयासों से विश्व समुदाय को कई प्रकार की समस्याओं से गुजरना पड़ रहा है। हालाँकि इसके लिए कई प्रयोग और अविष्कार समय-समय पर हो रहा है किन्तु इससे पहले कि वो बीमारी का ईजाद करें, समस्या लाखों को निगल जाती है। zika virus threat america 

आज हमारे बीच एक ऐसी ही समस्या मुह बाये खाड़ी है वो ज़ीका वायरस है। जी हां मच्छर से फैलने वाला यह सक्रमण आज अमेरिका जैसे महाशक्ति को भी हिला कर रख दिया है। ये बात नहीं है ये संक्रमण आज सार्वजानिक हुई है। ज्ञात हो की ज़ीका वायरस का पहला मामला 1947 में दर्ज हुई थी तबसे ये संक्रमण लैटिन अमेरिका से लेकर एशिया तक आ पहुंचा है। आइए जानते है कि ज़ीका वायरस क्या है और ये कैसे फैलता है ? zika virus threat america 

ISIS के निशाने पर मोदी, 15 अगस्त को कर सकता है हमला

ज़ीका एक वायरस है जो मच्छर की प्रजाति है। ये वायरस Flaviviridae और genus Flavivirus के परिवार का है। ज़ीका वायरस एडीज़ मच्छर के काटने से फैलता है। ज़ीका वायरस का नाम यूगांडा के जंगल के नाम पर रखा गया है।

1947 में इसका पहला मामला दर्ज होने के बाद ये अफ्रीका और एशिया में फैला। इस वायरस का संक्रमण 2007-16 के बीच अधिक बढ़ा। देखते-देखते ही ये पुरे विश्व में फ़ैल गया। आज विश्व समुदाय के लिए ज़ीका वायरस एक समस्या बन बैठी है। अब तक इस वायरस से5000 लोग संक्रमित है जिससे  4000 बच्चे शिकार हो चुके है। जबकि ये वायरस कुल 24 देशों में फ़ैल चूका है यंहा तक की लैटिन अमेरिका में ये वायरस पूरी तरह से सक्रिय है। zika virus threat america 

रियो ओलंपिक्स के लिए भी खास तैयारी की गई है ताकि ज़ीका वायरस से कोई व्यक्ति संक्रमित न हो। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र संघ ने सभी देशो को आवश्यक कदम उठाने के लिए कहा है। अमेरिका भी इस वायरस से पूरी तरह प्रभावित है।

ज़ीका वायरस के लक्षण

तेज बुखार
सर दर्द
उलटी आना
आँखों के पीछे दर्द होना
मसल्स दर्द
जॉइंट दर्द आदि
यदि इस तरह की कोई समस्या हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें, घरेलू उपचार से बचें।

ज़ीका वायरस से बचाव के उपाय    zika virus threat america 

हालाँकि, अभी तक इस वायरस के लिए किसी प्रकार का टीके का उपलब्ध नहीं है लेकिन यदि आवश्यक कदम संक्रमण के समय ही डॉक्टर की सलाह से लिया जाये तो इस संक्रमण से आप मुक्त हो सकते है।
कुछ महत्वपूर्ण कदम

* घर में साफ़-सफाई करें, मच्छरों को पनपने न दे। गमलों, पानी टंकियों, कूलर, बाल्टियों, झाड़ियों आदि की प्रतिदिन सफाई करें। इनमें पुराने पानी जमा न होने दे।
* मच्छर से बचाव के लिए अपने पुरे शरीर को ढंके, बच्चों को गंदगी से दूर रखें।
* जोड़ों में दर्द, बुखार, आंखें लाल होने, गले में खराश, जैसे लक्षण नजर आने पर स्वयं चिकित्सा न करें और न ही घरेलू चिकित्सा के द्वारा समय नष्ट करें। दर्द की श‍िकायत पर भी पैरासिटामॉल (Paracetamol) लें, इबूप्रोफेन (जैसे कि डिस्प्रिन Disprin) न लें।
*ज़ीका वायरस से प्रभावित रोगी कंप्लीट बेड रेस्ट लेना ज़रूरी है। रोगी को अधिक मात्रा में पानी और तरल पदार्थ दें , डॉक्टर से सम्पर्क में रहे ।

ज़ीका वायरस से खतरा  zika virus threat america 

ज़ीका वायरस गर्भवती महिलाओं के लिए अधिक खतरनाक होता है। ज़ीका मच्छर काटने से न्यूरोलॉजिकल, माइक्रोसेफैली जैसी समस्याएं हो जाती हैं, जिससे नवजात श‍िशु का दिमाग पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाता है और बच्चा विक्षिप्त की भांति रहता है। zika virus threat america 

अमेरका में भी इस संक्रमण से काफी संख्या में लोग प्रभावित हुए है। इस बाबत अमेरिकी सरकार ने अपने देश के निवासियों को हिदायत दी है की लैटिन अमेरिका और अफ्रीका महादेश जाने से बचें। अमेरिका में संक्रमण से बचने के लिए सरकार राजस्व का एक बड़ा हिस्सा देती है किन्तु इस वायरस के तेजी से फैलने से निर्धारित समय से पहले ही सहायता राशि खत्म हो गई है। zika virus threat america 

इसके लिए सरकार ने कांग्रेस को बुलाकर एक बैठक की। जिसमें इस संक्रमण के इलाज के लिए अलग से सहायता राशि की घोषणा की गई है। ताकि ज़ीका वायरस के इन्फेक्शन को बढ़ने से रोका जाए। भारत में इस तरह की बीमारी से बचने के लिए सरकार आवश्यक कदम उठा रही है। हालाँकि, भारत में अभी तक ज़ीका वायरस का मामला दर्ज नहीं हुई है। यदि ज़ीका वायरस का सिमटम देखने को मिलता है तो नहीं घबरायें। सही समय पर डॉक्टर की सलाह लेने से इस वायरस से बचा जा सकता है। zika virus threat america 

( प्रवीण कुमार )