शनिवार 28 अप्रैल 2018 को है छिन्नमस्ता जयंती,जानिए पूजा विधि और शुभ मुहूर्त





मार्कण्डेय पुराण के अनुसार छिन्नमस्ता माता दस महा विद्याओ में छठी महाविद्या है। छठी महाविद्या के देवी माता छिन्नमस्ता है। जिनकी जयंती बैशाख माह में मनाई जाती है। इस वर्ष माता छिन्नमस्ता जयंती शनिवार 28 अप्रैल 2018 को मनाई जाएगी। माता छिन्नमस्ता सवसिद्धि को पूर्ण करने वाली अधिष्ठात्री कहलाती है। जिनके नाम मात्र से सर्व सिद्धि प्राप्त होती है। जो मनुष्य माता से विशेष सिद्धि के लिए इस दिन व्रत और उपवास रखता है। उसकी मनोकामना अवश्य पूर्ण होती है।

देवी छिन्नमस्ता की उत्पति कथा

धार्मिक पुराण के अनुसार एक बार माँ भगवती अपनी दो सहचरियों के संग मंदाकनी नदी में स्नान कर रही थी। स्नान करने के समय दोनों सहचरियों को बहुत तेज भूख लगी। भूख की पीड़ा से उन दोनों सहचरियों का रंग काला हो गया।

वैशाख पूर्णिमा की कथा एवम इतिहास

तब सहचरियों ने माँ भवानी से भोजन के लिए कुछ माँगा। परन्तु माँ भवानी ने कुछ समय प्रतीक्षा करने के लिए कहा, पर भूख की पीड़ा ना सह पाने के कारण दोनों सहचरियों भोजन की हठ करने लगी। तत्पश्चात दोनों सहचरी नम्रता पूर्वक माँ भवानी से अनुरोध करने लगी कि माँ तो भूखे शिशु को अविलम्ब भोजन प्रदान करती है।

मिजोरम में कांग्रेस-भाजपा ने किया गठबंधन

नम्रता पूर्वक वचन सुनकर माँ भवानी ने अपने खडग से अपना सिर काट लिया। माँ भवानी का कटा हुआ सिर उनके बाए हाथ में आ गिरा। माँ भवानी के सिर से तीन रक्त धाराये निकली। दो धाराओ से दोनों सहचरी रक्त पान कर तृप्त हो गई। तीसरी धारा माँ भवानी स्वंय पान करने लगी। तभी से माँ भवानी के छिन्नमस्तिका रूप का प्रादुर्भाव हुआ।

माँ छिन्नमस्ता जयंती महत्व

छिन्नमस्ता जयंती के कुछ दिन पहले से ही भक्त गण तैयारियाँ करने लगते है। माँ के दरबार को पूरी तरह से सजाया जाता है। माँ छिन्नमस्ता जयंती के दिन माँ दुर्गा सप्तशी पाठ का आयोजन किया जाता है।

जिसमें श्रद्धालु तथा भक्त गण भाग लेते है। इस दिन लंगर भी परोसा जाता है। माँ छिन्नमस्ता को भक्त गण चिंतापुर्णी के नाम से भी पुकारते है। माँ चिन्ताओ को हरण करने वाली है। माँ के दरबार में जो भी भक्त सच्ची श्रद्धा से आता है उसकी हर मुराद अवश्य पूर्ण होती है।

तेज़ धुप में फेस टेनिंग से कैसे बचें | Beauty tips | कालेपन का नुस्खा

एक क्लिक में पाइए देश के बाकी सभी हिस्सों सहित दिल्ली का समाचार (Delhi News In Hindi) सबसे पहले Mobilenews24.com पर। Mobilenews24.com से हिंदी समाचार (Hindi News) और अपने मोबाइल पर न्यूज़ पाने के लिए हमारा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें Mobilenews24.com App और रहें हर खबर से अपडेट।

Delhi News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mobilenews24.com के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।







 

Leave a Reply