26 फरवरी 2018 को है आमलकी एकादशी,जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास




हिन्दी धर्म के अनुसार एकादशी व्रत का अति महत्वपूर्ण स्थान है. प्रत्येक वर्ष में 24 एकादशी होती है जबकि अधिकमास में 26 एकादशी पड़ता है। वर्ष के प्रत्येक माह में 2 एकादशी व्रत मनाया जाता है। एक कृष्ण पक्ष में दूसरा शुक्ल पक्ष में पड़ता है। फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी को विजया एकादशी कहते है जबकि शुक्ल पक्ष की एकादशी को आमलकी एकादशी कहते है। इस वर्ष फाल्गुन माह में शुक्ल पक्ष की आमलकी एकादशी सोमवार 26 फरवरी 2018  को मनाई जाएगी। devotional aamlaki ekadashi vrat katha

आमलकी एकादशी की कथा devotional aamlaki ekadashi vrat katha

युधिष्ठिर ने भगवान श्रीकृष्ण से कहा, हे प्रभु। विजया एकादशी के बारे में तो आपने बताया। अब कृपा कर फाल्गुन माह में शुक्ल पक्ष की एकादशी को क्या कहते है तथा इसकी कथा और व्रत विधि के बारे में बताये। भगवान श्रीकृष्ण बोले, फाल्गुन माह में शुक्ल पक्ष की एकादशी को आमलकी एकादशी कहते है। एक बार भगवान विष्णु ने जब अवज्ञा प्रकट किया तो उससे चन्द्रमा के समान कांतिमान एक बिंदु धरा पर प्रकट हुआ।अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें www.hindumythology.org

आर्मी चीफ विपिन रावत अपनी औकात मत भूलो : ओवैसी