16 अगस्त 2018 को है कल्कि जयंती,जानिए व्रत की कथा एवम इतिहास




वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार कलयुग में भगवान विष्णु जी कल्कि रूप में अवतरित होंगे। भगवान विष्णु जी के कल्कि का अवतार सावन माह में शुक्ल पक्ष की पंचमी के दिन होगा। तदनुसार प्रत्येक वर्ष सावन माह में शुक्ल पक्ष को कल्कि जयंती मनाया जाता है। devotional kalki jayanti history 

अतः श्रावण माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी को देश भर में बड़े ही धूमधाम से कल्कि जयंती मनाई जाती है। इस वर्ष 16 अगस्त 2018 को कल्कि जयंती मनाई जाएगी। devotional kalki jayanti history

कल्कि जयंती व्रत कथा devotional kalki jayanti history 

पुराणों के अनुसार भगवान भगवान कल्कि जी का जन्म कलयुग की समाप्ति तथा सतयुग के संधि काल में सावन माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी को कश्मीर राज्य में विष्णुदत्त नामक व्यक्ति के घर पर होगा। विष्णुदत्त भगवान विष्णु जी का परम भक्त होगा। जबकि बारह वर्ष की उम्र में भगवान कल्कि का विवाह त्रिकोता नामक कन्या से होगा। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें www.hindumythlogy.org

जानिए आजादी के बाद भी आज भी लोग क्यों जी रहे है गुलामों की जिंदगी