10 जुलाई 2018 को है प्रदोष व्रत,जानिए व्रत की कथा एवम इतिहास




वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह के दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। तदनुसार, सावन माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी यानि शुक्रवार 10 जुलाई 2018 को प्रदोष व्रत मनाया जाएगा। know pradosh vrat story worship 

परिवार में मंगल ही मंगल होता है। know pradosh vrat story worship 

कलयुग में प्रदोष व्रत का अतुल्य महत्व है, भगवान शिव जी के भक्त श्री सूत जी का कहना है की जो भक्त प्रदोष व्रत के दिन उपवास रख कर शिव जी की आराधना व् पूजा करते है, उनकी सारी मनोकामना पूर्ण होती है तथा सभी प्रकार का दोष दूर हो जाता है एवं परिवार में मंगल ही मंगल होता है। अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें www.hindumythlogy.org

कश्मीर मेरा है किसी के बाप की जागीर नहीं है :शहला रशीद