कश्मीर से आतंकियों का सफाया करके छोड़ेगी बीजेपी





भाजपा नेतृत्व किसी भी हालात में जम्मू कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ नरमी बरतने को तैयार नहीं है। जिस प्रकार से आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने का दुस्साहस किया है इसके बाद तो यह साफ हो गया है कि अब इनको जवाब देने की जरूरत है। पिछले दिनों अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले ऐसे समय में किया गया है जब आतंकियों पर सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है। ऐसे में अलगाववादी नेता चाह रहे हैं कि किसी भी तरह से सरकार पर दवाब बने और बातचीत को तैयार हो जाए। सरकार ने सख्त चेतावनी दे दी है कि पहले घाटी में शांति व्यवस्था कायम हो। सरकार किसी भी तरह से खून खराबा करने वाले से समझौता करने को तैयार नहीं है।  अलगाववादी नेता चाहते हैं कि भाजपा-पीडीपी गठबंधन के बीच में किसी भी प्रकार से दबाव बने और इसमें टूट हो जाए। इसके लिए लगातार कमजोर कड़ी को अलगाववादी खोज रहे हैं। kashmir se aantankiyo ka safaya krke choddhegi BJP

सीमा पर फिर हुआ सीजफायर का उलंघन,शहीद जवान की पत्नी की भी हुई मौत





भाजपा शीर्ष नेतृत्व यह साफ तौर पर चाहता है कि किसी भी हालात में ऐसे में बातचीत नहीं किया जाए। जब घुसपैठियों के खिलाफ सरकार सख्ती से पेश आ रही है और एऩआईए, ईडी और आईटी जैसी केंद्रीय एजेंसियां हुर्रियत के फंडिंग की जांच कर रही है। और अब इसका खुलासा भी होगा। अभी पीडीपी के एक एमएलए के ड्राइवर हवाला के तहत पैसे का हेरफेर में गिरफ्तार भी किया गया है।गौरतलब है कि विपक्ष यह चाहता है कि सरकार सख्त कार्रवाई जारी रखे लेकिन इसके साथ ही राजनीतिक वार्ता भी जारी रखना चाहिए। लेकिन सरकार सख्त लाइन पर ही चलने के मूड में है। सरकार किसी भी हालात में जम्मू कश्मीर में शांति चाहती है। सेना को इसलिए पूरी छूट दी गई है ताकि वह आतंकियों पर सख्त कार्रवाई करे। विदित हो कि पिछले साल हिज्जबुल कमांडर बुरहानी वानी को सेना ने मार गिराया उसके बाद ही पाकिस्तान की शह पर घाटी में लगातार हिंसक घटनाएं तेज हो गई है।

गोलगप्पे बनाने के आसान तरीका
 kashmir se aantankiyo ka safaya krke choddhegi BJP

Leave a Reply