शिक्षा विभाग की गलती का नतीजा भुगत रहे है सरकारी स्कूल के बच्चे




एक तरफ पंजाब सरकार बच्चों के बेहतर कल के लिए अलग अलग योजनाएं बना रही है ताकि भविष्य में बच्चों को किसी बात की कमी न रहे वहीं दूसरी तरफ शिक्षा विभाग की अनदेखी के कारण सरकारी प्राइमरी स्कुल के बच्चों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। pathankot daily news 

पंजाब सरकार की तरफ से गर्मी को ध्यान में रखते हुए सभी स्कूलों का समय सुबह 7:30 से दोपहर 12:30 बजे कर दिया गया है लेकिन शिक्षा विभाग की गलती के कारण पठानकोट के सूंदर नगर स्थित प्राइमरी स्कूल का समय दोपहर 1 बजे से शाम 6 बजे तक का कर दिया गया है। जिसके चलते बच्चों के परिजनों के साथ साथ बच्चों में भी भारी रोष है बच्चों के परिजनों ने कहा की अगर जल्द समय में तब्दीली नहीं की गई तो वो अपने बच्चों को स्कूल भेजना बंद कर देंगे pathankot daily news 

बच्चों के परिजनों में रोष है

ये जो स्कुल के बाहर कागज़ पर एक से छे बजे का फरमान आप देख रहे है ये पंजाब स्कुल शिक्षा बोर्ड के अधिकारीयों ने जारी किया है की प्राइमरी स्कुल के बच्चे एक बजे से छे बजे तक स्कुल में शिक्षा हासिल करेंगे जो की बच्चो के परिबारों को न मंजूर है शिक्षा बोर्ड के अधिअक्रियों के कारनामे को देख कर सभी हैरान है। pathankot daily news 

इस बारे में बच्चों के परिजनों ने कहा की पहले स्कूल सुबह 7:30 बजे लगता था और 12:30 बजे छुट्टी हो जाती थी लेकिन आज स्कूल प्रशासन ने स्कूल के बाहर नोटिस लगा दिया है की अब से प्राइमरी स्कूल दोपहर 1 से शाम 6 बजे तक चलेगा जोकि इन बच्चों के लिए ठीक नहीं रहेगा। pathankot daily news 

उन्होंने कहा की गर्मी के दिन है और दोपहर के समय चिलचिलाती धुप में बच्चे कैसे आएगे इस लिए हमारा विभाग से निवेदन है की बच्चों के स्कुल टाइम को बदल कर पहले की तरह किया जाये अगर जल्द ही समय में बदलाव नहीं किया गया तो हम लोग अपने बच्चों को स्कूल भेजना बंद कर देंगे जिसकी जिम्मेदारी विभाग की होगी pathankot daily news 

स्कूल में बच्चों की संख्या कम हो चुकी है

दूसरी तरफ इस बारे में जब स्कूल के प्रिंसिपल से बात की गई तो उन्होंने कहा की हमारे इस स्कूल की इमारत में 2 स्कूल चलते है हमारे इस स्कूल में सरकारी प्राइमरी एवं सरकारी मिडल स्कुल के बच्चे पड़ने के लिए आते है उन्होंने कहा की आज से करीब 3 साल पहले हमारे स्कूल में बच्चों की संख्या बहूत ज्यादा थी। pathankot daily news 

एक क्लिक में जानिए पठानकोट की हर छोटी बड़ी ख़बरें

जिसके चलते हम दोनों स्कूलों ने आपसी सहमति से सरकार को 2 शिफ्टों चलाने के लिए अनुमति तीन साल पहले मांगी थी लेकिन तब विवाग की तरफ से हमें कोई जवाब नहीं आया था लेकिन आज जब स्कूल में बच्चों की संख्या कम हो चुकी है तो विभाग की तरफ से स्कूल को 2 शिफ्टों में चलाने के लिए आदेश जारी किये है जिसके चलते बच्चों के परिजनों में रोष है इसके लिए हमने विवाग को लिखा भी है जिस में उच्च अधिकारीयों का कहना है की अभी इसी आदेश का पालन किया जाये बाद में देखेंगे pathankot daily news