सोशल मीडिया की अफवाहों में चल रही खबरों के ऊपर शायराना अंदाज़ में दिया जवाब




पूर्व संसदीय सचिव व कलायत से पूर्व विधायक रामपाल माजरा ने अंबाला रोड स्थित आरकेएम फार्म पैलेस में इनेलो और बसपा की संयुक्त कार्यकर्ता बैठक में संबोधित करते हुए social media rumors response

शायराना अंदाज में कहा कि ‘ ना मैं गिरा ना मेरी उम्मीदों के मीनार गिरे पर जो लोग मुझे गिराने पर लगे थे, वो खुद कई बार गिरे।माजरा यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि हजारों सवालों की आवाज़, मेरी खामोशी ही रख देगी।। social media rumors response 

मीडिया में भी इसे बढ़-चढ़कर दिखाया गया। social media rumors response 

शायराना अंदाज के पीछे की वजह यह है कि कई दिनों से सोशल मीडिया व कैथल के  अखबार के पन्नों में इनेलो से खफा माजरा को बताया जा रहा था।अभी हाल ही में हुई इनसो की रैली में माजरा मंच पर नहीं पहुंचे।वही विपक्ष को एक बड़ा मुद्दा भी मिला साथ ही मीडिया में भी इसे बढ़-चढ़कर दिखाया गया। social media rumors response 

लेकिन आज अपने वक्तव्य में माजरा ने अपने कामकाज को काम गिनवाया, बल्कि पार्टी के सरताज चौधरी देवीलाल व हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला का ज्यादा जिक्र किया।उन्होंने कहा कि हरियाणा के हक की लड़ाई ओमप्रकाश चौटाला ने एसवाईएल की पैरवी कर अच्छी तरीके से लड़ी थी। social media rumors response 

वही चौधरी देवीलाल को हरियाणा हितेषी बताते हुए कहा कि आज हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ का श्रेय चौधरी देवीलाल को जाता है। यदि वह इसके लिए लड़ाई नहीं लड़ते तो यह चंडीगढ़ आज पंजाब का हिस्सा होता। social media rumors response




कार्यक्रम के उपरांत उन्होंने पत्रकारों से बातचीत की और उन्होंने कहा कि वह विधानसभा में BJP सरकार को जगाने के लिए ढोलकी लेकर जाएंगे क्योंकि BJP सरकार ने एमएसपी के नाम पर मात्र रूपये 200 न्यूनतम मूल्य बढ़ाया था और हरियाणा के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ अपने घर से मुख्यमंत्री के आवास तक ढोल बजाते हुए नाचते हुए गए थे जबकि किसान को उसकी लागत प्रति क्विंटल रूपये 1000 कम मिल रहा है इसलिए वह BJP को जगाने का काम करेंगे पत्रकारों ने जब पूछा कि विधानसभा में ढोलक बजाना प्रतिबंधित है ऐसा विधानसभा स्पीकर ने अपने बयान में कहा था तो उन्होंने कहा मौका देखेंगे और पूछेंगे कि वह किस तरह रोकते हैं और किस कानून के तहत उनको रोका जाएगा। social media rumors response 

पत्रकारों ने पूछा की एसवाईएल के मुद्दे पर विधानसभा में काफी गहमागहमी रहती है और इससे अन्य जनहित के मुद्दे रह जाते हैं तो इस पर नेता प्रतिपक्ष ने कहा हरियाणा प्रदेश में एसवाईएल ही सबसे बड़ा मुद्दा है और इसी मुद्दे को लेकर लाखों लोगों ने जेल भरो आंदोलन के तहत गिरफ्तारियां दी है और इसी मुद्दे को लेकर हरियाणा के लोग 18 तारीख को हरियाणा बंद करने जा रहे हैं इसी मुद्दे को लेकर हरियाणा के वकील 9 अगस्त को दिल्ली में जंतर-मंतर पर जाकर अपना रोष प्रदर्शन करेंगे और गिरफ्तारियां देंगे और प्रधानमंत्री के नाम मेमोरेंडम भी देंगे और इसी मुद्दे को लेकर हरियाणा के वकील एक दिन स्ट्राइक पर रहेंगे social media rumors response 

आजादी का 72 वां साल – क्या मिला क्या थोपा गया

छात्रसंघ के चुनाव के मुद्दे पर अभय चौटाला ने स्पष्ट शब्दों में कहा के छात्र चुनाव को लेकर हमारे पार्टी का पहले दिन से ही एक फैसला है कि चुनाव डायरेक्ट ही होंगे और सरकार छात्रों के अधिकारों पर किसी प्रकार की रोक लगाने की बजाय उनको प्रजातांत्रिक तरीके से अपनी यूनियन बनाने का अधिकार दिया जाए social media rumors response

बरसात के मौसम में होने वाली बिमारियों का रामबाण नुस्खा