एन चंद्रशेखरन बने टाटा संस के नये चेयरमैन




एन चंद्रशेखरन टाटा संस के नये चेयरमैन बने है। हालांकि, 53 वर्षीय एन चंद्रशेखरन $103 बिलियन का कारोबार 22 फरवरी से संभालेंगे। रतन टाटा संस की इंटरव्यू कमेटी ने एन चंद्रशेखरन को जगुआर लैंड रोवर के राल्फ स्पेथ, युनिलीवर के हरीश मनवानी और स्मिथ्स ग्रुप के सर जॉर्ज बकले पर तवज्जो दी है । Natarajan Chandrasekaran will new tata sons chairman 

एन चंद्रशेखरन का इंटरव्यू

टाटा संस कमेटी के सदस्यों ने इंटरव्यू के दौरान टीसीएस के सीईओ एन चंद्रशेखरन से पूछा, आप रतन टाटा संस का काम काज कैसे संभाल पाएंगे ? आपके पास स्टील सेक्टर में काम करने का कोई अनुभव नहीं है।

इसपर एन चंद्रशेखरन ने कहा, मैं अकेले चाहूँ तो कुछ नहीं कर सकता हूँ। मुझे एक टीम की जरुरत पड़ेगी। जब टीम एक साथ, एक होकर, एक लक्ष्य के लिए काम करेगी तो सफलता सुनिश्चित है। इंटरव्यू ले रही कमेटी के लिए एन चंद्रशेखरन का जबाब बिलकुल सटीक था। उन्होंने इसके अतिरिक्त कई अन्य सवाल किये जिसका एन चंद्रशेखरन ने बखूबी दिया। जिससे उनका चयन हो गया। एन चंद्रशेखरन 22 फरवरी से टाटा संस के चेयरमैन की जिम्मेवारी संभालेंगे। Natarajan Chandrasekaran will new tata sons chairman 

केजरीवाल इस्तीफा दें : मनोज तिवारी

आपको बता दें कि 2012 में रतन टाटा चेयरमैन पद से रिटायर हुए थे उनके स्थान पर टाटा संस ने साइरस मिस्त्री को टाटा संस को नया चेयरमैन बनाया था लेकिन पिछले वर्ष साइरस मिस्त्री और टाटा संस के बीच शेयर को लेकर विवाद पैदा हो गया था। ये विवाद इतना गहराया कि मामला कोर्ट में लंबित है। Natarajan Chandrasekaran will new tata sons chairman 

टाटा संस ने साइरस मिस्त्री को अनुशासनहीनता के आधार पर पद से बर्खास्त कर दिया था। जबकि कुछ लोगों का कहना है कि साइरस मिस्त्री ने खुद पद से इस्तीफा दिया था। साइरस मिस्त्री के पद से हटने के बाद से चेयरमैन पद रतन टाटा संभाल रहे है। अब जबकि टाटा संस ने नये चेयरमैन की घोषणा कर दी है तो निर्धारित 22 फरवरी से एन चंद्रशेखरन टाटा संस के नये चेयरमैन होंगे। जबकि रतन टाटा अवकाशग्रहण करेंगे । Natarajan Chandrasekaran will new tata sons chairman