लाल कला मंच का 13 वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया



समाजिक सांस्कृतिक एवं साहित्यिक क्षेत्र में सक्रिय संस्था लाल कला मंच का 13वाँ स्थापना दिवस मीठापुर चौक पर धूमधाम से बुंदेलखंड से पधारे बरिष्ठ साहित्यकार श्री राधेश्याम गुप्ता की अध्यक्षता एवं का. जगदीश चंद्र शर्मा आतिथ्य में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में संस्था के सचिव पर्यावरण प्रेमी एवं दिल्ली रत्न लाल बिहारी लाल का 43 वाँ जन्म भी दिवस मनाया गया। lal kala manch celebrated annual fest 

इस अवसर हमारा पूर्वांचल साप्ताहिक पत्रिका के संपादक रमाधार पांडे एवं अतिथियों द्वारा लाल कला मंच के संस्थापक सचिव एवं पत्रकार लाल बिहारी लाल को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। lal kala manch celebrated annual fest 

श्री लाल को दिल्ली के कई कवियों सहित, कई पत्रकार एवं नेता इन्हें जन्म दिन की बधाई देने पहूँचे उनमें फरीदाबाद से शिव प्रभाकर ओझा,दिवाकर मिश्रा,गिरीश मिश्रा नोयडा से वरिष्ठ पत्रकार राज कुमार अग्रवाल ,संतोष तिवारी,लक्ष्मी नगर से नीरज पांडे,दिल्ली से मास्टर गिरीराज शर्मा गिरीश ने लाल बिहारी लाल के लगन के देख कर कहा- कुछ किया कर कुछ किया फार पजामा सिया कर ,काजल चौबे, के,पी.,सिंह,जावेद असलम,तुलसी दास शर्मा, नेताओं में का.जगदीश चंद्र शर्मा, मलखान सैफी, विजय प्रकाश, प्रेम कुमार गौतम, नान्हें प्रसाद,लोकनाथ शुक्ला, भगत सिंह आदी क्षेत्र के कई गन्यमान्य उपस्थित थे। lal kala manch celebrated annual fest 

इस अवसर पर कवियों ने अपनी-अपनी कविता लाल बिहारी लाल के उपर सुनाया।सबसे ज्यादा बाहाबही सुरेश मिश्र अपराधी की कविता पर रही- करे समाज सेवा नित्य पर्यावरण का रखे ख्याल।क्षेत्र में अजब मिशाल,युग-युग जीयो बिहारी लाल।। lal kala manch celebrated annual fest 

केजरीवाल उपराज्यपाल से टकराव छोड़ विकास पर ध्यान दें : सतीश उपाध्याय

का. जगदीश चंद्र शर्मा ने कहा- कि लाल बिहारी लाल लाल कला मंच के तहत क्षेत्र के नवोदित बच्चों को रंग अबीर उत्सव के माध्यम से मंच प्रदान करते है एवं सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के माध्यम से उनका भविष्य सवांरने में भी सहयोग करते हैं। lal kala manch celebrated annual fest 

आये हुए सभी अतिथियों,कवियो एंव अन्य सभी को हार्दिक धन्यवाद दिया।

रामाधार पांडे ने कहा कि लाल कला मंच एवं लाल बिहारी लाल दोनों के कार्य़ सराहनीय है। हमारा पूर्वांचल केदिल्ली ब्यूरो के रुप में अपना काम बा-खूबी निभा रहे हैं। वही शिव प्रभाकर ओझा ने कहा कि नवोदित कवियों एवं लेखकों को लाल कला मंच के सहयोग से मौका दिया जाता है। lal kala manch celebrated annual fest 

अध्यक्षीय वक्तब्य में राधेश्याम गुप्ता ने कहा- कि लाल कला मंच पिढले 13 सालों से साहित्य ,पर्यावरण एवं संस्कृति के क्षेत्र में बदरपुर ही नही बल्कि दिल्ली में काफी जानी-मानी संस्था है औऱ अपने क्षेत्र में काफी काम कर रही है। lal kala manch celebrated annual fest 

लाल बिहारी लाल का नाम भी सामाजिक एवं सांस्कृतिक क्षेत्रों में दिल्ली एवं ए.सी.आर में अदब से लिया जाता है। लाल कला मंच एवं लाल बिहारी लाल का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है। लाल बिहारी लाल ने कहा कि आप लोगो का स्नेह एंव प्यार मिलता रहा तो यह प्रयास आगे भी जारी रहेगा। अन्त में संस्था के अध्यक्ष सोनू गुप्ता ने आये हुए सभी अतिथियों,कवियो एंव अन्य सभी को हार्दिक धन्यवाद दिया। lal kala manch celebrated annual fest 
( लाल बिहारी लाल )