महान लेखक प्रेमचंद की 136वीं जयंती पर हुआ कवि सम्मेलन का आयोजन





लाल कला मंच,नई दिल्ली की ओर से मुंशी प्रेमचंद की 136वीं जयंती काब्यगोष्ठी के रुप में मीठापुर चौक पर मनाई गई। कार्यक्रम का आगाज संस्था के सचिव लाल बिहारी लाल के सरस्वती वंदना-ऐसा माँ वर दे, विद्या के संग-संग, सुख समृद्धि से सबको भर दे, से हुई। premchandra 136th birth anniversary

 इस कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ समाजसेवी का. जगदीशचंद्र शर्मा ने किया । इसमें दिल्ली एवं फरीदाबाद के अनेक कवियो एवं साहित्यकारों ने हिस्सा लिया। इनमें लाल बिहारी लाल, जय प्रकाश गौतम,शिव प्रभाकर ओझा,आकाश पागल ,के.पी. सिंह कूंवर, सुरेश मिश्र, मलखान सैफी, भगत सिंह, नानकचंद, गिरीगाज शर्मा गिरीश, संगीता चौवे,इसरार अहमद अजीम, ब्रजेश शर्मा, बुंदेली का महान बयोवृद्ध कवि ऱाधे श्याम गुप्ता उर्फ विकल जी शहजाद अहमद, असलम जावेद आदी कवियो ने भाग लिया। premchandra 136th birth anniversary 

मुझे ख्वाब दौलत के आने लगे हैं, बच्चे जब से कमाने लगे है premchandra 136th birth anniversary 

असलम जावेद ने कहा- मुझे ख्वाब दौलत के आने लगे हैं, बच्चे जब से कमाने लगे है। लाल बिहारी लाल ने कहा की प्रेम चंद सरल तथा आम आदमी की भाषा में लिखा करते थे। premchandra 136th birth anniversary

आज भी उनकी रचनायें समाजिक परिवेश में प्रासांगिक है। इनकी रचनाये , युग-युगों तक याद की जायेगी। लाल बिहारी लाल ने एक दोहा में कहा कि-रचा सब जन जन खातिर, अमर हो गया नाम। गद्य पद्य साहित्य में खूब किया है काम।। premchandra 136th birth anniversary 

जानिए महान लेखिका महाश्वेता देवी जी की जीवनी

इस अवसर पर क्षेत्र के कई गन्यमान्य भी मौजूद थे उनमें-लाल चंद्र प्रसाद, लोकनाथ शुक्ला, महेश बछराज, ललित शर्मा,,अशोक कुमार, रमेश गिरी, कृपाशंकर, रविशंकर, डा.के..के.तिवारी आदी सहित दर्जनों लोगों ने कवियों के कविताओं का आनंद उठाया। अंत में संस्था के अध्यक्ष सोनू गुप्ता ने सभी कवियों एवं आगन्तुकों को हार्दिक धन्यवाद दिया। premchandra 136th birth anniversary 

( लाल बिहारी लाल ) premchandra 136th birth anniversary