मैं बहुत जल्द बीजेपी ज्वाइन करूँगा : कुमार विश्वास




आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास और अरविन्द केजरीवाल के बीच जारी मतभेद एक बार से उस वक़्त उजागर हो गया जब पार्टी ने उन्हें राजस्थान के प्रभारी के पद से हटाकर उनकी जगह दीपक वाजपेयी को राजस्थान का प्रभारी बनाया. दीपक वाजपेयी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल के करीबी माने जाते हैं. इसके साथ ही वह आम आदमी पार्टी के कोषाध्यक्ष भी हैं. aap eliminate kumar vishwas

उन्हें इस दायित्व से मुक्त किया गया है. aap eliminate kumar vishwas

कुमार विश्वास को राजस्थान के प्रभारी पद से हटाने कि घोषणा करते हुए पार्टी के नेता आशुतोष ने कहा कि उनके पास पार्टी के लिए वक़्त कि कमी रहती है इसलिए उन्हें इस दायित्व से मुक्त किया गया है. पार्टी कि ओर से चाहे कुछ भी कहा जाये लेकिन यह जग जाहिर है कि अरविन्द केजरीवाल और विश्वास के बीच विश्वास नहीं बन पाना ही इसका मुख्य कारण है. aap elliminate kumar vishwas

2019 में पीएम मोदी का जेल जाना तय है : तोगड़िया

वहीं इस मुद्दे पर कुमार विश्वास के करीबी सूत्रों के मुताबिक यह सब अमान्तुल्लाह खान षणयंत्र पर से पर्दा उठाने के कारण किया गया है. अब पार्टी में कुमार विश्वास सिर्फ एक राजनीतिक सलाहकार मात्र रह गये हैं. हालाँकि वह पीएसी के सदस्य भी हैं. गौरतलब है कि इसी साल के अंत तक राजस्थान में चुनाव होने है. जिसको देखते हुए केजरीवाल वहां पर अपना विश्वस्त नियुक्त करना चाहते थे. यही कारण है कि पार्टी से लगभग बाहर हो चुके विश्वास कई मौको पर नजरंदाज कर दिया गया. aap eliminate kumar vishwas

हेपेटाइटिस बी और पीलिया का घरेलु उपचार

 ऐसे में कुमार विश्वास के पास बीजेपी ज्वाइन करने की पूरी संभावना है या यूं कहे तो केजरीवाल ने कुमार विश्वास के बीजेपी ज्वाइन करने के दरवाजे खोल दिए है। अब देखना यह है कि कुमार विश्वास कितनी जल्दी केजरीवाल के इस फैसले पर जबाब देते है।

ये भी पढ़ें कुमार विश्वास बीजेपी में होंगे शामिल !