26 अप्रैल को केजीरवाल की आम आदमी पार्टी कब्र में दफ़न हो जाएगी !




जिस तरह से ओपिनियन पोल आ रही है इसमें आम आदमी पार्टी को काफी पिछड़ता दिखाया गया है। वहीं भाजपा सत्ता विरोधी लहर के धत्ता बताते हुए फिर से तीनों निगमों पर कब्जा जमाने जा रही है। एमसीडी चुनाव 2017 के ठीक पहले आए ओपिनियन पोल में आम आदमी पार्टी के माथे पर सिकन आ गई है। दोनों ही पोल में भाजपा को आगे दिखाया गया है। जबकि दस साल से भाजपा का तीनों निगमों पर कब्जा है। aap will buried 

दिल्ली में मतदान 23 अप्रैल रविवार को है

ऐसा माना जा रहा था कि निगम में सत्ता विरोधी लहर का फायदा आम आदमी पार्टी और कांग्रेस को मिलेगा। लेकिन जिस तरह से अभी ओपिनियन पॉल आए हैं इससे तो साफ हो गया है कि मोदी लहर यहां भी कायम है। टाइम्स नाउ के पोल में भाजपा को 272 में से 195 सीटें दी गई हैं। इससे साफ हो गया है कि भाजपा की जीत निश्चित है। भाजपा ने इस चुनाव में खास रणनीति के तहत अपने सभी सीटिंग पार्षदों का टिकट काट दिया जिससे उसके विरुद्ध चल रहे हवा उसके पक्ष में हो गए। aap will buried 

भाजपा ने ऐसे टिकट का बंटवारा किया जिसमें संघ और पुराने कार्यकर्ताओं को अहमियत दे दी। जिसका उसे फायदा मिलता नजर आ रहा है। वहीं आम आदमी पार्टी को लगातार झटके लग रहे हैं। राजौरी गार्डन के विधानसभा उपचुनाव में आम आदमी पार्टी के जमानत जप्त हो गए थे उसके बाद से ही लगातार ग्राफ इनका गिर रहा है। आम आदमी पार्टी पहले आशा कर रही थी कि नगर निगम में उसका कब्जा हो जाएगा। लेकिन अभी के रूख से स्पष्ट हो गया है कि उसे इस बार मुंह की खानी पड़ेगी। aap will buried 

केजरीवाल सतेंद्र जैन को मंत्री पद से हटायें नहीं तो धरना प्रदर्शन फिर से किया जाएगा : विजेंद्र गुप्ता

वहीं कांग्रेस के लिए भी अच्छी खबर नहीं है। जिस प्रकार से उसके नेता लगातार भाजपा में शामिल हो रहे हैं इससे यह जाहिर हो रहा है कि उसे भी झटका लगेगा। ओपिनियन पोल में कांग्रेस को तीसरे नंबर पर दिखाया जा राह है। तय है कि अभी कांग्रेस को दिल्ली में काफी मशक्कत करनी पड़ेगी। एवीपी न्यूज के ओपिनियन पोल में भाजपा को 179 सीट दिया गया है तो आप को 45 सीट तो कांग्रेस को मात्र 26 मिलती नजर आ रही है। दिल्ली में मतदान 23 अप्रैल रविवार को है। aap will buried