मुझे मार डालो पर मैं गाय का मांस नहीं खाऊंगा : अजमेर दरगाह दिवान




देश में अब बदलाव बड़ी तेजी से हो रहे हैं। अब मुस्लिम समुदाय में भी गाय के मांस खाने का विरोध होने लगा है यहां तक कि कई दिग्गज ने भी मांस ना खाने का संकल्प लिया। देश में गाय के मांस को खाने को लेकर कई तरह के विवाद उत्पन्न हुए हैं। जिसमें खास समुदाय के लोग निशाने पर रहे हैं। अजमेर की ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के दरगाह के दीवान जैनुअल आबेदीन ने आह्वान किया है कि कोई भी अब गाय का मांस ना खाएं। मुझे मार डालो पर मैं कभी भी गाय का मांस नहीं खाऊंगा। ajmer sharif dargaah divan will not eat beef 

तीन तलाक का भी विरोध किया है

इन्होंने साफ तौर पर कहा कि अब मुस्लिम समुदाय गाय का मांस न खाकर सद्भावना की मिसाल कायम करें। जिससे काफी हलचल पैदा हो चुकी है। इनका विरोध लोग करने लगे हैं। जैनुअल आबेदीन ने आरएसएस के राग राग में मिलाते हुए गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग की है। गाय के राष्ट्रीय पशु घोषित करने के लिए कई तरह के देश में आंदोलन तक किए गए हैं। कई समुदाय ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आह्वान भी किया यहां तक कि अपने मांग पत्र भी उन्हें सौंपा है। ajmer sharif dargaah divan will not eat beef  

जैनुअल आबेदीन ने केंद्र सरकार के राग मिलाते हुए कहा साफ तौर पर तीन तलाक का भी विरोध किया है। इनका कहना है कि इसको खत्म किया जाना चाहिए। जिसका अब इनके भाई ने ही विरोध किया है। कहा जा रहा है कि कट्टरपंथियों ने इनके भाई अलीमी से इनके विरोध बयान दिलाए हैं। ajmer sharif dargaah divan will not eat beef 

शुक्र है मैं कुंवारा हूँ, नहीं तो डिंपल भाभी के चक्कर में योगी जी मुझे भी जेल में डाल देते : राहुल गाँधी

जैनुअल आवेदीन ने लगातार प्रगतिशील मुसलमान की तरह बयान दिए हैं जिसे कट्टरपंथी पसंद नहीं करते हैं जिससे बार बार विवाद हुआ है। वे इसके पहले तीन तलाक का भी विरोध किया जिसको लेकर उत्तर प्रदेश के चुनाव में काफी होहल्ला हुआ। इसके पहले कश्मीर पर भी अलगाववादियों को निशाने पर लिया था। ajmer sharif dargaah divan will not eat beef