नाटकबाज अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ धरना देंगे अन्ना हजारे





अरविन्द केजरीवाल के राजनीति गुरु अन्ना हजारे ने कल कहा कि वो केजरीवाल और उसके विधयाकों के खिलाफ नई दिल्ली में धरना देंगे। केजरीवाल सरकार में पूरी दिल्ली बेहाल है, जो रक्षक है वही भक्षक बन बैठा है। दिल्ली की जनता ने केजरीवाल को उस विश्वास ने वोट दिया था कि वो दिल्ली में विकास, सुरक्षा और शांति मुद्दे पर काम करेंगे पर स्थिति बदल चुकी है अब तो दिल्ली में शीला दीक्षित सरकार से भी बदतर हालात है। anna will restart movement 

उन्होंने कहा, हर तरफ अराजकता और अशांति है लोग पानी, बिजली, सुरक्षा आदि समस्यों से जूझ रही है वही केजरीवाल पंजाब चुनाव में मस्त है। एक राज्य तो केजरीवाल सरकार से सम्भल नहीं रहा है, चले है पंजाब में चुनाव लड़ने ! anna will restart movement 

जनता महंगाई से त्रस्त है और मोदी जी विदेश यात्रा में मस्त है : राहुल गाँधी

केजरीवाल के विधायक जिस तरह से अशिष्ट व्यवहार कर रहा है उससे तो पता चलता है कि वो अपने पद का दुरपयोग करने पर तुले है। एक की गलती से दूसरा सीखना नहीं चाह रहा है। अब तक दर्जनों विधायक सलाखों के पीछे है फिर भी आप के विधायक का नाम गलत कार्यों में उजागर हो रहा है। anna will restart movement 

केजरीवाल सरकार के खिलाफ जन आंदोलन करेंगे anna will restart movement 

अन्ना ने कहा कल ही मैंने पंजाब में आप के एक और विधायक के अवैध सम्बन्ध के बारे में मीडिया से सुना। अब बहुत हो गया, केजरीवाल को इस मुद्दे पर संज्ञान लेने की आवश्यकता है किन्तु केजरीवाल अपने विधायकों पर ठोस निर्देश नहीं दे रहे है। जिस कारण आप विधायक गलतियां दोहराने से बाज नहीं आ रहे है। इसलिए हमने निश्चय किया है कि वक्त आ गया है कि केजरीवाल को जमीनी हकीकत से अवगत कराया जाए। anna will restart movement 

अन्ना ने कहा कि जल्द ही हम आप और केजरीवाल सरकार के खिलाफ दिल्ली में धरना देंगे। यदि केजरीवाल इस मुद्दे को गम्भीरता से नहीं लेता है तो लोकपाल बिल की तरह केजरीवाल सरकार के खिलाफ जन आंदोलन करेंगे। anna will restart movement 

अन्ना का ये कदम कितना सफल होगा वो तो आने वाले दिनों में पता चल जाएगा लेकिन केजरीवाल सरकार के मंत्रियों को किसी न किसी रूप में अहसास दिलाने की जरूरत है कि यदि दिल्ली की जनता केजरीवाल को मुख्यमंत्री बना सकती है तो अगले चुनाव में केजरीवाल को राजनीति से सन्यास भी दिला सकती है।  anna will restart movement 
( प्रवीण कुमार )