वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कैश किल्लत पर दी सफाई कहा देश में पैसों की किल्लत नहीं है




नोटबंदी के दौरान देशभर हुई कैश की भारी किल्लत की याद एक-बार फिर से ताजा हो गयी है. देश के 10 राज्यों में कैश आपूर्ति बाधित होने के कारण लोगों को कैश के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. एटीएम मशीनों के बाहर लम्बी लाईने देखने को मिल रही हैं. arun jaitley clarify cash scarcity problem

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इसे ख़ारिज किया है arun jaitley clarify cash scarcity problem

वहीँ अब सरकार ने नोट छपाई के कार्यक्रम में तेजी लाने का निर्णय लिया है. मीडिया में आई खबरों की माने तो देवास के प्रिंटिंग प्रेस में नोटों की छपाई में तेजी लाते हुए तीन शिफ्ट में काम करने का निर्णय लिया गया है, ताकि नकदी आपूर्ति को फिर से बहाल किया जा सके. नकदी संकट को लेकर आ रही खबरों पर संज्ञान लेते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इसे ख़ारिज किया है. arun jaitley clarify cash scarcity problem

उन्होंने कहा कि बाजार और बैंकों में पर्याप्‍त मात्रा में कैश रिजर्व उपलब्ध हैं, लेकिन बाजारों में अचानक से मांग बढ़ने के कारण इस तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. हालाँकि वित्त मंत्री ने 500 रुपये के नोटों अधिक मात्र में छपाई की बात कही है. उन्होंने कहा कि फ़िलहाल सरकार के पास 1,25,000 करोड़ रुपये की करेंसी मौजूद है. अपने ट्वीट में जेटली ने कहा कि ‘देश में नोटों की उपलब्‍धता को लेकर समीक्षा की गई है. बाजार में पर्याप्त मात्रा में करेंसी प्रचलन में हैं. बैंकों के पास भी कैश रिजर्व की कोई कमी नहीं है. कुछ क्षेत्रों में अप्रत्‍याशित तरीके से आई इस अस्‍थाई समस्या का समाधान जल्द ही हो जायेगा’. arun jaitley clarify cash scarcity problem

राज्यों के पास असमान करेंसी समस्या arun jaitley clarify cash scarcity problem

वहीँ इस मामले में वित्त राज्‍य मंत्री एसपी. शुक्‍ला ने कहा कि राज्यों के पास करेंसी का असमान भंडार एक समस्‍या है जिस कारण से इस तरह की समस्याएं सामने आ रही हैं. इस मामले से निपटने के लिए तीन सदस्‍यीय समिति का गठन किया गया है. आगामी तीन दिनों में इससे निजात मिल जाएगी. उच्‍चाधिकारियों की माने तो जिन राज्यों में भी करेंसी का फ्लो कम हैं वहां पर पडोसी राज्यों से कैश आपूर्ति सुनिश्चित करवाई जा रही है. arun jaitley clarify cash scarcity problem

नकदी मामले में आरही समस्याओं को लेकर अब मध्य प्रदेश के वित्त मंत्री ने नये मामले को हवा देते हुए कहा है कि 2000 के नोटों की कालाबाजारी हो रही है. हालाँकि इस मामले में एसबीआई के प्रमुख ने इसे महज एक अफवाह बताते हुए इसे भौगोलिक कारण बताया है. जिस कारण से नोटों की किल्लत का सामना करना पड़ता है. फिलहाल पूरे देश में लांच किये गये 200 के नोटों के लिए एटीएम मशीनों की रिकैलिब्रेशन की प्रक्रिया चल रही है. arun jaitley clarify cash scarcity problem

दिल्ली पुलिस ठुल्ला है और ठुल्ला ही रहेगा : केजरीवाल

गौरतलब है कि बीते कुछ सप्ताहों के दौरान आंध्र प्रदेश और तेलंगाना राज्यों में नकदी की काफी समस्‍या सामने आ रही है. बहरहाल इससे निपटने के लिए कर्नाटक और महाराष्‍ट्र से कैश की आपूर्ति की जा रही थी, लेकिन अब पूर्वी महाराष्‍ट्र, गुजरात, बिहार सहित कई दुसरे राज्‍यों में भी इसी तरह की दिक्कतें हो रही हैं. फिलहाल आर्थिक विभाग नकदी की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने की बात कह रहा है. arun jaitley clarify cash scarcity problem

तेज़ धुप में फेस टेनिंग से कैसे बचें | Beauty tips | कालेपन का नुस्खा

एक क्लिक में पाइए देश के बाकी सभी हिस्सों सहित राष्ट्रीय का समाचार (national News In Hindi) सबसे पहले Mobilenews24.com पर। Mobilenews24.com से हिंदी समाचार (Hindi News) और अपने मोबाइल पर न्यूज़ पाने के लिए हमारा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें Mobilenews24.com App और रहें हर खबर से अपडेट।

national News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mobilenews24.com के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।







Leave a Reply