बूलचिस्तान के लोग मांग रहे है आजादी, 1971 की तरह युद्ध की संभावना बढ़ी





जबसे पीएम मोदी ने पाकिस्तान को कश्मीर मुद्दे पर मुहतोड़ जबाब दिया है देश में देशभक्ति की लहर उमड़ पड़ी है। पीएम मोदी ने आतंकवाद समर्थक पाकिस्तान को उसी की भाषा में जबाब देते हुए कहा की कश्मीर ही नहीं बल्कि पाक अधिकृत कश्मीर हमारा है। balochistan wants freedom 

पाक अधिकृत कश्मीर और बलूचिस्तान की पाकिस्तान गतिविधि जानने के लिए हमने विदेश मंत्रालय को आदेश दिया है की वो पाक के कब्जे वाले कश्मीर और बलूचिस्तानके लोगों की जमीनी हकीकत जानने की कोशिश करें जिसे हम पूरी दुनिया के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। पीएम मोदी ने 70 वें स्वंतंत्रता दिवस समारोह में भाषण देते हुए बूलचिस्तान मुद्दे पर कहा की मैं उस धरती को नहीं देखा है लेकिन वँहा के लोगों में मेरे प्रति बड़ा स्नेह है वो हमारा बहुत सम्मान करते है। balochistan wants freedom 

ये जानकर मुझे ख़ुशी हुई है की बलूचिस्तान और गिलगित के लोग मुझे सम्मान और प्यार देते है। मैं उनके प्यार और सम्मान का धन्यवाद देता हूँ। प्रधानमंत्री मोदी के इस बयान के बाद देश-विदेश में हलचल मच गई है। पाक अधिकृत कश्मीर और बलूचिस्तान के लोगों में आजादी को लेकर उम्मीद की किरण नजर आने लगी है। balochistan wants freedom 

इंडिया विथ बलूचिस्तान balochistan wants freedom 

बलूच पर पाकिस्तान सरकार जोर जबरदस्ती कर रही है जिससे वंहा के लोगों में पाकिस्तान सरकार के प्रति विश्वास उठा गया है। अब बलूच के लोग आजादी चाहते और मांगते है .यदि आंकड़ों को देखा जाएँ तो सैंकड़ों इस आजादी को पाने के लिए शहीद हो जाते है। balochistan wants freedom 

हालांकि, इस मामले में बलूच के नेता कादिल बलूच ने कई बार पीएम मोदी से सम्पर्क साधने की कोशिश की है। एएनआई को दिए गए इंटरव्यू में बलूच ने कहा था की पीएम मोदी से सहायता की उम्मीद है। हिंदुस्तान के पीएम मोदी को बलूच को आजादी दिलाने में मदद करनी चाहिए।जिस तरह हिंदुस्तान ने बंगलादेश की सहायता कर उसे आजादी दिलाई थी। उसी प्रकार की उम्मीद बलूच के लोग मोदी जी से करते है। balochistan wants freedom 

पीएम मोदी के बलूचिस्तान मुद्दे पर उठाई गई मांग का स्वागत करते हुए बलूच के नेता मुफ़्ती ने कहा की पीएम मोदी का बलूच के प्रति प्यार सम्मानीय है। समय आ गया है की हिंदुस्तान के अलावा अन्य यूरोपी देश भी बलूच को आजादी दिलाने में मदद करें। balochistan wants freedom 

मोदी ने बरखा दत्त को फोन कर डाँटा, कहा क्यों आग लगा रही हो ?

मुफ़्ती के पिता की हत्या पाक सरकार ने कर दी थी। जिसके बाद से मुफ़्ती का परिवार स्विट्रजलैंड में रह रहे है। इस सम्बन्ध में ट्विटर पर एक ट्रेंड चल रहा है इंडिया विथ बलूचिस्तान जिसमें देश-विदेश के लोग बलूचिस्तान को आजादी दिलाने की बात कर रहे है। balochistan wants freedom 

आपको बता दें कि कश्मीर मामले पर भारत की प्रतिक्रिया का दौर जारी है। कल ही रक्षा मंत्री मैनर पर्रिकर ने एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा की पाकिस्तान को नरक की संज्ञा देने में कोई गुरेज नहीं है। वंहा जाने का मतलब आप नरक में जा रहे है। balochistan wants freedom 

आतंकवाद के एक गोली का जबाब 10 गोलियों से दिया जाए balochistan wants freedom 

उन्होंने कहा कि विश्व और एशिया में शांति स्थापित और भाईचारे का उद्देश्य लेकर माननीय गृहमंत्त्री राजनाथ सिंह सार्क सम्मलेन के लिए पाकिस्तान गए थे। हम अपने जवानों को सीमा पर जान देने के लिए नही जान लेने के लिए तैनात करते है। रक्षा मंत्राललय से आदेश है की आतंकवाद के एक गोली का जबाब 10 गोलियों से दिया जाए। हां, कश्मीर के लोगों का जान माल की क्षति न हो इसका ध्यान रखा जाए। balochistan wants freedom 

मोदी सकरार के द्वारा दिए गए मुहतोड़ जबाब से पाकिस्तान सकते में है। इस बाबत पाकिस्तान ने भारत के उच्चायुक्त को बातचीत के लिए दो बार पत्र लिख चूका है पर दोनों पत्र में कश्मीर मुद्दे पर बात करने की पेशकश की गई है। जबकि भारत केवल और केवल आतंकवाद पर बात करना चाहता है। जिस कारण पाकिस्तान अब विदेशी दरवाजा खटखटाने में जुटा हुआ है।  balochistan wants freedom 
( प्रवीण कुमार )