बंगाल में तालिबान का कब्जा




कोलकाता हाई कोर्ट ने ममता बनर्जी के उस फैसले पर रोक लगा दी है। जिसमें ममता सरकार ने राज्य में दुर्गा मूर्ति के विसर्जन पर मुहर्रम के दिन रोक लगा दी थी। कोलकाता हाई कोर्ट ने ममता सरकार के उस फैसले को रद्द कर दिया है। इससे पहले कोर्ट ने 20 सितंबर को ममता सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि वे दो समुदाय के बीच विवाद पैदा न करे। bangaal men taliban ka kabja 

ओवैसी आतंकी है उसे इंडिया गेट पर फांसी से लटका देना चाहिए : तस्लीमा नसरीन

गौरतलब है ममता सरकार के दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर रोक आदेश के खिलाफ 14 सितंबर को अधिवक्ता अमरजीत रायचौधरी ने कलकत्ता हाई कोर्ट में PIL दाखिल की थी। चौधरी ने तर्क दिया था कि दुर्गा पूजा बंगाल का सबसे बड़ा उत्स्व है। जिसमें सभी विधियां शुभ समय के अनुसार होती है। तो विसर्जन भी शुभ समय पर होनी चाहिए। लेकिन ममता सरकार के आदेश से ऐसा लग रहा है जैसे वे धार्मिक अधिकारों का हनन करना चाहती है। bangaal men taliban ka kabja

बंगाल धीरे धीरे तालिबान बनता जा रहा है

बंगाल में ममता सरकार द्वारा दुर्गा प्रतिमा विसर्जन को लेकर दिए आदेश पर बीजेपी ने कड़ा प्रहार किया है। बीजेपी ने ममता सरकार की निंदा करते हुए कहा कि ममता बनर्जी बंगाल में हिन्दुओं के खिलाफ है और जिस तरह से वे राज्य में सरकार चला रही है। उससे साफ़ जाहिर होता है कि वे बंगाल को हिन्दू मुक्त राज्य बनाना चाहती है। बीजेपी बंगाल इकाई के प्रमुख दिलीप घोष ने सोशल साइट फेसबुक पर लिखा कि बंगाल में तालिबान का शासन है। bangaal men taliban ka kabja 

घना दाढ़ी मुछ बढाने का न्यू फार्मूला

दिलीप घोष ने आगे लिखा कि जिस तरह से ममता बनर्जी कभी स्कूलों में सरस्वती पूजा रोक देती है तो कभी दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर बैन लगा देती है। इससे पता चलता है कि बंगाल धीरे धीरे तालिबान बनता जा रहा है। यदि समय से हम हिन्दू जागरूक और एकजुट नहीं हुए तो हमें सीरिया और लीबिया की तरह बंगाल छोड़कर भागना होगा। bangaal men taliban ka kabja 




Leave a Reply