मैं चुप नहीं बैठूंगा और हिन्दुओं के खिलाफ जंग जारी रखूँगा : बरकाती




प. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के चहेते इमाम नूर उर रहमान बरकती राष्ट्रद्रोह के मसले पर बर्खास्त कर दिया गया है। जिन्होंने कई आपत्तिजनक बातें अभी तक कह डाली थी। जहां लाल बत्ती न हटाने के जिद्द पर अड़े थे तो वहीं पहले उन्होंने भाजपा में शामिल होने पर दंड भुगतने को कहा था। यहां तक कि जय श्री राम नारे लगाने वाले को किन्नर तक कह डाला था। barkati threaten hinduism

इमाम के पद से बर्खास्त हो गए हैं

टीपू सुल्तान मस्जिद के इमाम नूर उर रहमान बरकती को इमाम के पद से बर्खास्त कर दिया गया है। बरकती ने अपने गाड़ी से लाल बत्ती न हटाने की जिद्द पर थे और इसके लिए बाबत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सरकारी गाड़ियों से लाल बत्ती हटाए जाने के आदेश दिए जाने के खिलाफ फतवा तक जारी कर दिया था। barkati threaten hinduism

बरकती ने साफ तौर पर कह दिया था कि वे धार्मिक नेता हैं और कई दशकों से लाल बत्ती का इस्तेमाल करते रहे हैं। इसलिए हटाने का तो सवाल ही नहीं है। जबकि केंद्र सरकार के निर्णय के बाद लाल बत्ती का गलत इस्तेमाल पर खास रोक लगा दी गई है। यह साफ कह दिया गया है कि किस किस को अधिकार है कि वह इस बत्ती का इस्तेमाल करें। barkati threaten hinduism

नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है

मस्जिद बोर्ड ऑफ ट्रस्टी के प्रमुख शाहजादा अनवर अली शाह ने कहा है कि देश विरोधी बयान को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिस प्रकार से बरकती ने बयान लगातार दे रहे हैं इससे वे केंद्र के निशाने पर बने हुए थे। शाहजादा ने साफ तौर पर कहा कि हमारे समुदाय के साथ बरकती ने धोखा किया है। और लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। बरकती के बयान से देश और समुदाय को नुकसान पहुंचाया है। barkati threaten hinduism

ऐसे में आरएसएस जैसी ताकतों को बढ़ावा मिल रहा है। इस तरह की बयान बाजी इन्हें नहीं करने की जरूरत है। गौरतलब है कि बरकती पर यह भी आरोप लगने लगे है कि वह मस्जिद का इस्तेमाल अपने निजी व्यापार के लिए भी करने लगे हैं। ऐसे में वे मस्जिद के ट्रस्टी के निशाने पर थे। बरकती लगातार भाजपा के खिलाफ आग उगल रहे थे और साफ तौर पर कह रहे थे कि वे यहां इस पार्टी को आने नहीं देंगे। barkati threaten hinduism

मेरा बाप बाहुबली देखे या कब्बाली मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है : अखिलेश यादव।

ममता बनर्जी के रैलियों में बरकती कई बार देखे जा चुके हैं। अब जब वे इमाम के पद से बर्खास्त हो गए हैं ऐसे में तय है कि आरएसएस के खिलाफ और तेजी से अपने बयान देने से बाज नहीं आने वाले हैं। यह सब तब हो रहा है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है और इसे रोकने के लिए बरकती जैसे इमाम तमाम कोशिश में लगे हैं। बरकती ने भाजपा में शामिल होने लोगों को दंड भुगतने तक कह डाला था। barkati threaten hinduism