लालू की गीदड़ भभकी से कितना डरते है नीतीश?

 




बिहार में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। प्रतिदिन बयानबाजी हो रही है इससे यह प्रतीत हो रहा है कि कभी भी महागठबंधन टूट सकता है। वहीं लालू प्रसाद लगातार इस प्रयास में लगे हैं कि किसी प्रकार गठबंधन न टूटे।भ्रष्टाचार के आरोपों में बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर लगातार दबाब डाला जा रहा है कि वे इस्तीफा दें। जदयू और राजद के बीच लगातार जुबानी जंग तेज हो गई है। जदयू की कार्यकारिणी की बैठक के बाद यह कहा गया है कि राजद को तेजस्वी पर फैसला चार दिन के अंदर ले। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद अब खुलकर तेजस्वी के बचाव में आगे आ गए हैं और साफ कहा है कि तेजस्वी किसी की कृपा से उपमुख्यमंत्री नहीं बने हैं। लालू यादव ने जदयू अध्यक्ष व बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी हमले किए कि राजनीतिक कारणों से तेजस्वी से इस्तीफा मांगा जा रहा है। राजनीतिक साजिश चल रही है। bihar nitish lalu conflict

होटल घोटाला मामले में लालू पर एक और CBI छापा , नीतीश ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग





लालू यादव ने कहा कि बिहार की जनता ने तेजस्वी को उपमुख्यमंत्री बनाया है। और वह अच्छा काम कर रहे हैं. तेजस्वी आगे बढ़ रहा है, नौजवान हैं। उन्होंने कहा कि लालू यादव को टारगेट कर उनके बेटा-बेटी को तंग किया जा रहा है। आज तक किसी के बेटा-बेटी पर राजनीतिक साजिश के तहत कार्रवाई नहीं हुई है। लेकिन जिस प्रकार की राजनीति भाजपा कर रही है, जनता उसका जवाब उन्हें देगी। लालू यादव एक तरफ नीतीश कुमार पर हमले भी किए वहीं दूसरी ओर यह भी कहा कि महागठबंधन को मजबूत करने के लिए वह अपनी जान लगा देंगे। जिस प्रकार से विपक्ष मजबूत हो रहा है। इससे भाजपा अब विभिन्न तरह के आरोप लगा रहे हैं। लालू यादव ने नीतीश कुमार लग हाथों सलाह भी दे डाली की भाजपा उनको सब्जबाग दिखा रही है उसके बहकावे में न आएं। गौरतलब है कि तेजस्वी यादव पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे है तब से इस्तीफा मांगा जा रहा है। जदयू ने भी इशारे इशारे में इस्तीफा देने को कहा है वहीं राजद सुप्रीमो ने इस्तीफा देने की बात से साफ इंकार कर दिया है। bihar nitish lalu conflict

loading…