मिजोरम में कांग्रेस-भाजपा ने किया गठबंधन





कहते हैं राजनीति बहुत अजीब चीज होती है, यह कभी भी कोई भी करवट ले लेती है. अब तो यह भी कहना पड़ रहा है कि क्रिकेट की तरह यह भी अनिश्चितता का खेल है. राजनीति में कुछ भी हो सकता है, मिसाल के तौर पर मिजोरम को ही ले लीजिये. जो भाजपा कांग्रेस मुक्त भारत की संकल्पना के साथ चुनावी मैदान में उतरती थी अब उसी ने मिजोरम में कांग्रेस के साथ गठबंधन कर जिला परिषद में सरकार बनाई.

गौरतलब है कि हाल ही में पूर्वोत्तर राज्य मिजोरम के आदिवासी बहुल चकमा जिला परिषद के 20 सीटों के लिए संपन्न हुए चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत हासिल नहीं हो सका. जिस कारण से 5 सीट पाने वाली भाजपा ने 6 हासिल करने वाली कांग्रेस के साथ मिलकर जिप में अपनी सरकार बनाई. इस चुनाव में 11 सीटों के जादुई आंकड़े को छूने में सभी पार्टियाँ विफल रहीं थी. चुनाव में भाजपा ने 5, कांग्रेस ने 6 और मुख्य विपक्षी नेशनल मिजो फ्रंट ने 8 सीटों पर जीत दर्ज किया था. बाकि बची एक सीट पर चुनाव के लिए हाईकोर्ट ने रोक लगा थी.

तेज़ धुप में फेस टेनिंग से कैसे बचें | Beauty tips | कालेपन का नुस्खा

बीते दिनों प्रदेश में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के दौरा एमएनएफ ने भाजपा के साथ चुनाव लड़ा था और शायद इसी सोच के तहत भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दो दिन पहले ही ट्वीट कर उम्मीद जताई थी कि चकमा स्वायत्त जिला परिषद् में भाजपा और एमएनएफ 13 सीटों के साथ सरकार बनाएगी. लेकिन पार्टी के लोकल नेताओं ने भाजपा आलाकमान की आँखों में धूल झोक कर कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया है. स्थानीय नेताओं ने ऐसा करके प्रधानमंत्री मोदी की कांग्रेस मुक्त भारत के संकल्प को गहरा झटका दिया है. हालाँकि पार्टी आलाकमान के खिलाफ जाकर बने इस गठबंधन का भविष्य क्या होगा यह तो आने वाला वक़्त ही बतायेगा. बहरहाल जिला परिषद् में दोनों पार्टियों ने सरकार बना ली है और अध्यक्ष पद भाजपा के पास ही है.

पीएम मोदी अनपढ़ है उनसे मुँह लगाना बेवकूफी है : मोहम्मद आसिफ

एक क्लिक में पाइए देश के बाकी सभी हिस्सों सहित दिल्ली का समाचार (Delhi News In Hindi) सबसे पहले Mobilenews24.com पर। Mobilenews24.com से हिंदी समाचार (Hindi News) और अपने मोबाइल पर न्यूज़ पाने के लिए हमारा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें Mobilenews24.com App और रहें हर खबर से अपडेट।

Delhi News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mobilenews24.com के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।







Leave a Reply