बीजेपी के सभी नेता रंडीबाज है : शहला राशिद




मोदी सरकार के अस्तित्व में आने के बाद से देश दो खेमे में बंट गया है। जंहा एक तरफ मोदी भक्त यानी की देश भक्त है तो दूसरी तरह अंध भक्त यानी की देश विरोधी है। इस पर्तिस्पर्धा में रोज कोई न कोई न्यूज़ वायरल हो रहा है और आरोप-प्रत्यारोप का ऐसा माहौल बन गया है। जो सभी मर्यादा और सीमा को लाँघ चूका है। फिर चाहे यूपी चुनाव का भाषण हो, या फिर कन्हैया कुमार का आंदोलन। bjp ke neta randibaj hai 

देश में अस्थिरता जैसा माहौल है।

सब जगह पर एक ही चीज़ देखने को मिल रहा है कि डिजिटल समय में सब कुछ ( गाली-गलौज) डिजिटल होता जा रहा है। ताज़ा मामले से आप अवगत होंगे। ये मामला सोशल साइट का है जंहा लोग अपने विचार को प्रस्तुत करते है। जो किसी के समर्थन में तो किसी के विरोध में होता है। bjp ke neta randibaj hai 

यदि ये देश हित में हो तो उसे जरूर स्वीकार करना चाहिए लेकिन देश विरोधी हो तो उसका मुहतोड़ जबाब देना चाहिए। जेनयू की छात्र कार्यकर्ता शहला रशीद ने सोशल साइट पर जिस तरह का ट्वीट किया वो कतई स्वीकार्य नहीं है लेकिन उन्होंने अपने इस ट्वीट को ऐसे अंदाज़ में प्रस्तुत किया कि उसके ट्वीट पर कोई कम्प्लेन न हो सके। वही जब अभिजीत भट्टाचार्य ने शहला रशीद के ट्वीट का रिप्लाई किया तो अभिजीत के अकाउंट को ब्लॉक कर दिया गया। bjp ke neta randibaj hai 

देश विरोधी तत्व को जड़ से खत्म किया जा सके।

आपको बता दें कि जेनयू की शहला रशीद ने ट्वीट कर बीजेपी के नेताओं को चरित्र हीन बताया था। उसने अपने ट्वीट में बीजेपी के सभी नेताओं को रंडीबाज बताया था। ये बयान शहला का मध्यप्रदेश में सेक्स रैकेट के भंडाफोड़ के बाद आया है। जिसमें बीजेपी के कार्यकर्ता भी शामिल थे। इस बयान के बाद जब अभिजीत द्वारा शहला रशीद को वैस्या बताया गया तो ट्विटर ने अभिजीत के अकाउंट को परमानेंट डिलीट कर दिया। bjp ke neta randibaj hai 

मोदी सरकार में गदहा भी पहलवान है : शोभा डे

जेनयू में मोदी सरकार और देश विरोधी तत्व पूर्व से सक्रिय रहे है। जो हमेशा चर्चा में बने रहते है। फिर चाहे कनैह्या कुमार हो, उमर खालिद हो। आज शहला रशीद जैसे देश विरोधी तत्वों के बड़बोलेपन से देश में अस्थिरता जैसा माहौल है। ऐसे में मोदी सरकार को यथाशीघ्र कोई बड़ा कदम उठाने की आवश्यकता है। जिससे कि जेनयू में पल रहे असमाजिक और देश विरोधी तत्व को जड़ से खत्म किया जा सके।  bjp ke neta randibaj hai 
( प्रवीण कुमार )