8 नवंबर को कांग्रेस मनाएगी मुर्ख दिवस




8 नवंबर 2016 को पीएम मोदी ने देश में 500 और 1000 के नोट बंद करने के आदेश दिए थे। इस आदेश के बाद देश में हाहाकार मच गया। हालांकि, काले धन पर लगाम लगाने के लिए पीएम मोदी की ये पहल कारगर साबित हुई। लेकिन इससे आम जनता को काफी तकलीफ हुई। celebrate fool day 8 November 

यदि नोटबंदी के दिनों को याद किया जाये तो रोंगटे खड़े हो जाते है। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक, पोरबंदर से लेकर सिल्चर तक सभी जगहों पर केवल एक ही चीज़ दिखाई देता था वो लोगों की लम्बी कतार जो बैंको के बाहर लगी रहती थी। ये कतार नोट एक्सचेंज के लिए लगी रहती थी। celebrate fool day 8 November 

आप बताओ क्या मुझे बीजेपी ज्वाइन कर लेना चाहिए !

वैसे पीएम मोदी के इस फैसले से न केवल काले धन पर कड़ा प्रहार हुआ बल्कि घाटी में पाक प्रायोजित आतंकवादियों और घुसपैठियों पर भी अंकुश लगा। नोटबंदी के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था को पटरी पे आने में काफी वक्त लगा। लेकिन धीरे धीरे देश की दशा और दिशा सामान्य हो गई।पुराने 500 और 1000 के नोट की जगह नए 500 सौ और 2000 के नोट ने ले ली। इसके अलावा रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने 50, 100 और 200 सौ के नए नोटों को भी जारी किए है। celebrate fool day 8 November 

कांग्रेस ने मुर्ख दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है

वही विपक्षी खेमे में नोटबंदी को लेकर नकारात्मक सोच बनी हुई है। पिछले वर्ष प्रमुख विपक्षी कांग्रेस पार्टी सहित सभी विपक्षी पार्टियों ने एक स्वर में नोटबंदी की आलोचना की थी। इतना ही नहीं विपक्षी पार्टियों ने देशव्यापी आंदोलन भी किया था। celebrate fool day 8 November 

बवासीर को जड़ से खत्म करने के घरेलू उपाय।

हालांकि, देश की जनता ने इस आंदोलन को अस्वीकार कर दिया। जिससे विपक्षी पार्टी को मुँह की खानी पड़ी थी। अब सूत्रों से पता चला है कि कांग्रेस पार्टी 8 नवंबर को नोटबंदी के वर्षगांठ पर कई कार्यक्रम आयोजित करने वाली है । जिसमें पीएम मोदी के तानाशाही फैसले पर रैलियां और भाषणबाजी की जाएगी। इस दिन को कांग्रेस ने मुर्ख दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है। celebrate fool day 8 November 

( प्रवीण कुमार )



Leave a Reply