कश्मीर में खून की आंसू रोयेगा भारत : चीन




चीन किसी भी तरह उत्तर पूर्व में अपनी घुसपैठ बनाना चाह रहा है इसके लिए उसे बस बहाना चाहिए। चीन पहले भी कई बार भारत को धमकी दे चुका है। यहां तक उत्तर पूर्व में घुसपैठ कई बार चुका है। तिब्बत के आध्यात्मिक गुरु दलाईलामा अरुणाचल प्रदेश की नौ दिनों की यात्रा पर हैं जिसका चीन लगातार विरोध जता रहा है। दरअसल चीन अरुणाचल प्रदेश को तिब्बत का हिस्सा मानता है। चीन दलाई लामा को अलगाववादी मानता है। china threat india 

चीन भारत को डराना चाहता है

चीन ने भारत के राजदूत को आगाह किया है और अपना विरोध जता दिया। चीन जिस तरह से आक्रामक रुख अपनाए हुए है इससे यह प्रतीत हो रहा है कि वह कुछ भी कर सकता है। दलाईलामा आठ वर्ष बाद इस इलाके में गए हैं। चीन से हमारी सीमा पर पहले से विवाद है जिसके समाधान के लिए कई बार कोशिश की गई है। लेकिन अगर इस तरह के विवाद यह बढ़ता गया तो मुश्किल फिर से पैदा करेगी। china threat india 

हालांकि जब चीन पिछले बार हमला किया था तो अलग तरह की माहौल था। आज वह बात नहीं है। चीन किसी भी तरह से भारत को घुड़की देते रहता है। जिसमें वह पाकिस्तान का भी सहारा लेता है। चीन किसी भी तरह से दलाईलामा को पचा नहीं पाता है। तिब्बत से दलाईलामा पचास वर्ष पहले भारत में आए और यहां शरण लिए हुए हैं जो चीन को कभी सुहाया नहीं। चीन बार बार यह जताया है कि दलाईलामा अलगाववादी हैं इन्हें शरण नहीं दिया जाए। china threat india 

50 रूपये का पानी बिल माफ़ कर जनता से करोड़ों लूट रहा है केजरीवाल

चीन का भारत से लंबा विवादित सीमा है जिसको लेकर समय समय पर तनातनी होती रही है। ऐसे समय में जब अभी विश्व पटल पर भारत अपनी धाक बनाने में जुटा है। चीन इसे पचा नहीं पा रहा और इसे सीमा विवाद में उलझाए रखना चाहता है। चीन इसलिए ऐसे बयान देता है कि कश्मीर पर अगर कुछ कहेंगे तो उसका विश्वव्यापी असर होगा। इसलिए ऐसे बयान देकर भारत को डराना चाहता है. china threat india