मैं कट्टर हिन्दू हूँ और हिन्दू होने के नाते मुसलमानों को इफ्तार पार्टी नहीं दूंगा : योगी




योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नक्शे कदम पर चल रहे हैं इसी कारण से वे मुसलमानों को इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं करने वाले हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री आवास पर रोजा इफ्तार का आयोजन नहीं करेंगे। अभी तक मुख्यमंत्री आवास पर यह आयोजन बडे जोर शोर के साथ होता रहा है। योगी आदित्यनाथ अब इस परंपरा को तोड़ने जा रहे हैं । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं करते हैं। cm yogi will not organize iftar  

व्हाइट हाउस में इफ्तार पार्टी होती है

गौरतलब है कि इसके पहले भाजपा के मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश में इफ्तार का आयोजन करते थे। जिसमें कल्याण सिंह और राजनाथ सिंह शामिल हैं। जो मुसलमानों में अपनी पैठ बनाना चाहते थे। लेकिन अब लीक से हटकर योगी आदित्यनाथ चल रहे हैं। योगी आदित्यानाथ गोरखनाथ मंदिर के महंत हैं और उन्होंने कभी इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं किया। cm yogi will not organize iftar  

ऐसे में अब इफ्तार पार्टी का आयोजन देने का अब भी कोई योजना नहीं है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी इफ्तार पार्टी का आयोजन करते थे लेकिन इस परंपरा को नरेंद्र मोदी ने तोड़ा और इफ्तार पार्टी नहीं दी। योगी आदित्यनाथ भी इसी नक्शे कदम पर चल रहे हैं। गौरतलब है कि देश की सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी उत्तर प्रदेश में रहती है। cm yogi will not organize iftar

योगी इफ्तार का आयोजन नहीं करेंगे

यह दूसरी बार है कि 1974 में हेमवती नंदन बहुगुणा के समय से चली आ रही परंपरा को तोड़ा जा रहा है। इसके पहले राम प्रकाश गुप्ता ने यह परंपरा तोड़ा था जब उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं किया। निश्चिततौर पर मुस्लिम संगठनों का इस बात को लेकर नाराजगी है कि जब पूरे विश्व में यहां तक कि व्हाइट हाउस में इफ्तार पार्टी होती है जो भाई चारे का संदेश देता है। cm yogi will not organize iftar  

पीएम मोदी को हराना मेरे बाएं हाथ का खेल है क्योंकि मैंने गीता पढ़ना शुरू कर दिया है : राहुल गाँधी

यहां आयोजन न करना गलत संदेश देता है। लेकिन योगी आदित्यनाथ अपने हिंदूत्व की छवि को किसी कारण से दाग नहीं लगने देना चाहते हैं और इसमें एक कदम आगे बढ़ाते हुए इफ्तार का आयोजन नहीं करेंगे जिससे की साफ हो जाए कि उनका दृष्टिकोण आज भी साफ है। cm yogi will not organize iftar