सुप्रीम कोर्ट के कलीजियम सिस्टम पर बीजेपी और कॉग्रेस एक।

हर मुद्दे पर आमने-सामने रहने वाले बीजेपी और कांग्रेस ने गुरुवार को एक सुर मिलाते हुए सुप्रीम कोर्ट की कलीजियम व्यवस्था पर हमला बोला। Congress, BJP together Supreme Court Klijiam system.

केंद्र में बीजेपी और पुरे विपक्ष ने उच्च न्यायपालिका में जजों की नियुक्ति किए जाने पर संविधान के आदेशों के उल्लंघन का आरोप लगाया है।

राज्यसभा में गुरुवार को पेश की गई सिफारिश में कानून एवं न्यायिक मामलों की संसद की स्टैंडिंग कमिटी के अध्यक्ष आनंद शर्मा ने कहा कि उच्च न्यायालयों और सुप्रीम कोर्ट में जजों की नियुक्ति के मामले में कलीजियम सिस्टम पर ‘सरकार उचित कदम’ उठा सकती है।

कमिटी ने कहा कि उच्च न्यायपालिका में जजों की नियुक्ति कार्यपालिका का जरूरी काम है। यही नहीं संविधान में भी उल्लिखित है कि इसे कार्यपालिका और न्यायपालिका को मिलकर निपटाना चाहिए।

कमिटी ने कहा, ‘सेकंड जजेज केस में शीर्ष अदालत के कुछ फैसलों से संविधान के नियमों का उल्लंघन हुआ है। ऐसे कुछ फैसलों को वापस लिया जाना चाहिए और संविधान की मूल भावना का सम्मान किया जाना चाहिए।’

इसके अलावा पैनल ने सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय पीठ द्वारा 99वें संविधान संशोधन को खारिज करने पर भी आपत्ति जताई।  Congress, BJP together Supreme Court Klijiam system, Congress, BJP together Supreme Court Klijiam system, Congress, BJP together Supreme Court Klijiam system.