यात्रा और परिक्रमा करने से कांग्रेस के अच्छे दिन आ जायेंगे: राहुल गाँधी




कांग्रेस अब भाजपा की ही रणनीति पर चलकर बूथ लेबल के कार्यकर्ताओं में उत्साह भरने में लगी है। जिसके लिए राहुल गांधी लगातार वरिष्ठ नेताओं से बैठक कर रहे हैं। कांग्रेस लगातार हार से उबरने के लिए और कार्यकर्ताओं में उत्साह भरतने के लिए लंबा कार्यक्रम बनाया है। अगले साल कर्नाटक में विधानसभा चुनाव है और यही एक ऐसा राज्य हैं जहां कांग्रेस कुछ नया कर अपनी सत्ता वापसी कर सकती है। उसके जनाधार लगातार घट रहे हैं। congress ke achche din aayenge 

भाजपा अपने बूथ लेवल के कार्यकर्तोंओं से लगातार संपर्क में है

कांग्रेस को पता है कि विधानसभा चुनाव में भाजपा और जनता दल सेकुलर से उन्हें कड़ी चुनौती मिलेगी। कांग्रेस ने जो अभी कार्यक्रम बनाए हैं वह एक साल का है। जिसकी शुरुआत कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी करेंगे। कांग्रेस भाजपा की ही तर्ज पर राजनीतिक परिक्रमा की शुरुआत करने वाली है। जिसमें अपने किए गए कार्यों और सरकारी की उपलब्धियों को जनता तक पहुंचाया जाएगा जिसमें विधायक, सांसद और अन्य नेता को लगाया जा रहा है। congress ke achche din aayenge 

भाजपा कई राज्यों में बाजी मार चुकी है

गौरतलब है कि सिद्धारमैया की सरकार 2013 में बनी थी। कांग्रेस के पास अब गिने चुने राज्य ही बचे हैं इसलिए इस विधानसभा चुनाव में किसी भी तरह से वापसी चाहेगी। इसके लिए भाजपा की रणनीति अपनाने पर लगी है और विधायकों की टिकट काटा जा सकता है। जैसे भाजपा अपने सिटिंग एमएलए का टिकट कांटने में तनिक भी देरी नहीं करता है। कर्नाटक कांग्रेस की हालत वैसे ज्यादा अच्छा नहीं है। उसके विधायक आपस में भिड़ते नजर आ रहे हैं। congress ke achche din aayenge 

प्रियंका चोपड़ा ने फिर से देश को किया शर्मशार

ऐसे में भाजपा के पास पूरा समय है और वह कांग्रेस को शिकस्त दे देगी। कांग्रेस के पास भी समय है और अगर वह नई रणनीति के साथ चुनाव में उतरती है तो परिणाम उनके हक में आ सकता है। ऐसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को देखते हुए यह काम आसान भी नहीं है। भाजपा अपने बूथ लेवल के कार्यकर्तोंओं से लगातार संपर्क में है और यही वह ताकत है जिससे भाजपा कई राज्यों में बाजी मार चुकी है। congress ke achche din aayenge