तीन तलाक मुद्दे पर टीवी शो में भड़के कांग्रेसी नेता साजिया इल्मी से की बदसलूकी




तीन तलाक मुद्दे पर लगातार राजनीति हो रही है। जहां एक एक कर मुस्लिम संगठन अपने बयान दे रहे हैं वहीं राजनीतिक पार्टी भी अपने अपने रुख स्पष्ट कर रहे हैं। तीन तलाक मुद्दे पर मुस्लिम पर्सनल बोर्ड लगातार विरोध जता रही है। जिसके लिए उत्तर प्रदेश के चुनाव के पहले राजधानी दिल्ली में सभी संगठन मिलकर प्रेस कांफ्रेंस भी किए और ऐतराज भी जाहिर किया। भाजपा नेता साजिया इल्मी ने जब तीन तलाक पर सरकार की हां में हां मिलाती हैं तो तय है कि मुस्लिम संगठन इसका विरोध करते हैं। और उत्तेजित भी होंगे। congress leader molest sajiya ilmi 

बदसलूकी व्यवहार लोकतंत्र परंपरा के विरुद्ध है

इसी कारण से ऐसे समय में उनके साथ बदसलूकी की गई। कांग्रेस भी किसी भी तरह से मुस्लिम का समर्थन हासिल रखना चाहती है इसके लिए वह तीन तलाक के पक्ष मे मुस्लिम संगठनों के साथ है इसी कारण से साजिया इल्मी जैसे नेताओं का वह बदसलूकी कर जाती है। लेकिन कहीं से भी यह उचित नहीं है। बहस के दौरान अक्सर ऐसे देखा जा रहा है जो लोकतंत्र की परंपरा के विरुद्ध है ऐसे नहीं होना चाहिए। खासकर स्वस्थ लोकतंत्र इसकी इजाजत नहीं देता। congress leader molest sajiya ilmi 

उत्तराखंड में रहना है तो मुसलमानों को वन्दे मातरम कहना होगा : बीजेपी सरकार

कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी है और अपनी मर्यादाओं का खास ख्याल रखती है। लेकिन जब उसका जनाधार लगातार घटता जा रहा है तो ऐसे समय में उत्तेजित हो जाना स्वभाविक भी है। लेकिन संयम तो बनाए रखने की जरूरत है। तीन तलाक जैसे मुद्दे हमारे देश के लिए ज्वलंत मुद्दे हैं जब कई राष्ट्रों में इस पर बैन है तो देश में क्यों नहीं बदला जाना चाहिए। congress leader molest sajiya ilmi 

सरकार लगातार इस प्रयास में है। लेकिन कुछ मौलाना के विरुद्ध के चलते इस पर सहमति बनाने में देरी लगेगी। जिस प्रकार से कई मुस्लिम संगठन अब इसका समर्थन कर रही है कि सरकार का यह कदम सही तो तय है कि आने वाले दिनों में इसमें बदलाव दिखेगा। लेकिन ऐसे तकरार भी होगी। लेकिन बदसलूकी व्यवहार लोकतंत्र परंपरा के विरुद्ध है जिसकी निंदा भी की जानी चाहिए। congress leader molest sajiya ilmi