कांग्रेस और यूपीए कार्यकर्ताओं ने इंडिया मुर्दाबाद के नारे लगाये




जम्मू कश्मीर में अभी राजनीति सरगर्मी तेज है। उपचुनाव में कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस किसी भी तरह से इस चुनाव में सफलता चाह रही हैं। जिसको लेकर लगातार विवादित बयान और हंगामे खड़े किए जा रहे हैं। जम्मू कश्मीर में दो लोकसभा सीटों पर उपचुनाव होने थे, जिसमें श्रीनगर सीट पर 9 अप्रैल को चुनाव हो गए जहां फारुख अब्दुल्ला नेशनल कांफ्रेंस से उम्मीदवार थे। congress people shout india murdabad 

इस चुनाव में काफी हिंसक झड़प हुई और काफी कम मतदान (लगभग सात फीसदी) ही हुए। इस चुनाव के पहले फारूख अब्दुल्ला ने काफी कड़वे वचन भी बोले। जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ। अब जब 12 अप्रैल को अनंतनाग में होने थे जिसको लेकर पीडीपी ने माहौल को देखते हुए इसकी तारीख आगे बढ़ाने की मांग रखी जिसे चुनाव आयोग ने सहमति जताते हुए आगे बढ़ा दिया। congress people shout india murdabad 

आठ लोगों की जान चली गई।

जिसके बाद कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस ने नाराजगी जाहिर कर दिया और इंडिया डेमोक्रेसी मुर्दाबाद के नारे भी लगा दिए। कांग्रेस के कार्यकर्ता यहीं तक नहीं रूके दो कदम आगे बढ़कर ऑफिस का घेराव कर जमकर हंगामा किया। कांग्रेस ने प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग तक कर दी है। कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस की मांग है कि नियत समय पर ही यानी 12 अप्रैल को ही चुनाव हो। जबकि चुनाव आयोग ने गृह मंत्रालय की सहमति के बाद चुनाव की तिथि 25 मई तय किया है। congress people shout india murdabad 

देखिये ममता सरकार ने किस तरह हिंदुओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

दरअसल दो सीटों पर उपचुनाव में काफी विवाद उत्पन्न हो गया। नेशनल कांफ्रेंस ने पत्थरबाज को देशभक्त तक करार दिया। और उनके कार्यों को सही बताया जिससे कई विवाद उत्पन्न हो गए। यहां तक कि दोनों देश के बीच विवाद को नेशनल कांफ्रेंस ने तीसरे की हस्तक्षेप को भी सही ठहरा रहे हैं जिससे और तकरार बढ़ गई। अब जब श्रीनगर में उपचुनाव हुए तो हिंसक झड़प तो हुई ही है इसमें आठ लोगों की जान भी चली गई। जिसके कारण चुनाव आयोग ने माहौल को शांतिपूर्ण बनने तक चुनाव को आगे बढ़ा दिया है लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ता इसे भी चुनावी मुद्दा बनाकर भुनाने की कोशिश में लगे हैं। congress people shout india murdabad