2019 में बर्खास्त तेज बहादुर को सेना का कमांडर बनाया जाएगा : कांग्रेस




ख़राब खाने की शिकायत सोशल साइट पर करने वाले सैनिक तेज़ बहादुर को सेना ने दो दिन पूर्व बर्खास्त कर दिया। सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा तेज़ बहादुर की बातों में कोई सच्चाई नहीं है। वो केवल अपनी छवि को हाईलाइट करना चाहता था। हालांकि, बर्खास्त तेज़ बहादुर का कहना है कि सेना ने जबरन उसे ड्यूटी से निकाला है। congress will honor tez bahadur  

बता दें कि तेज़ बहादुर ने सेना की शीर्ष अधिकारीयों पर गंभीर लगाते हुए कहा था कि सैनिको के साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है। जो बजट सरकार सेना को सैनिकों पर खर्च करने के लिए देती है। उसका गवन सेना के अधिकारी कर जाते है। खाने में केवल दाल और रोटी दी जाती है। जबकि सेना को इसके लिए सरकार की तरह से अतिरिक्त बजट दी जाती है। अधिकारी मिले हुए है वो सब घटिया खाना सैनिको को प्रोवाइड करते है। जिससे बीमार होने की पूरी संभावना रहती है। तेज़ बहादुर का वीडियो वायरल होने के बाद गृह मंत्रालय ने संज्ञान लेते हुए सेना को तत्काल मामले की जाँच करने का आदेश दिया। congress will honor tez bahadur  

सेना ने जाँच के बाद तेज़ बहादुर के वीडियो का खंडन करते हुए कहा कि तेज़ बहादुर अपनी बुरी आदतों से मजबूर था। रोज उसकी शिकायत अधिकारीयों के पास आती थी। वो शराब का भी लती था। जिस कारण अक्सर ड्यूटी पर लेट आता है। सेना ने तेज़ बहादुर के बुरे रवैये को देखते हुए उसे अधिकारीयों की सुरक्षा के लिए तैनात किया गया था। जिससे तेज़ बहादुर खफा था। congress will honor tez bahadur  

सेना ने रिपोर्ट पर संज्ञान लेते हुए तेज़ बहादुर को बर्खास्त कर दिया। अब तेज़ बहादुर मुद्दे पर राजनैतिक हलचल तेज़ हो गयी है। कांग्रेस ने तेज़ बहादुर की बर्खास्तगी को गलत बताया। कांग्रेस के मनीष तिवारी ने कहा कि वो तेज़ बहादुर को हक दिला के रहेंगे। वही मध्य प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अरुण यादव ने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस तेज़ बहादुर को सम्मानित करेगी। congress will honor tez bahadur  

गाँधी जी को पहले ही गोली मार देना चाहिए था : काटजू

कांग्रेस की इस हरकत साफ़ जाहिर होता है कि कांग्रेस केवल मुद्दा ढूंढ रही है ताकि मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला जाये। यदि इसी तरह की निति पर कांग्रेस काम करती रही तो वो दिन दूर नहीं जब कांग्रेस विपक्षी पार्टी का पद भी खो देगी।  congress will honor tez bahadur  
( प्रवीण कुमार )