अब साइक्लोन वरदा की कर्नाटक में दस्तक।

तमिलनाडु में तबाही मचाने के बाद अब कर्नाटक में प्रवेश करने जा रहा हैं ‘वरदा’, बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव वाले क्षेत्र के कारण बना चक्रवाती तूफान ‘वरदा’ से मरने वाले लोगों की संख्या 10 तक पहुंच गई है।  Cyclones now knock Varada Karnataka.

एनडीएम के मुताबिक, चेन्नई में ४, कांचीपुरम में २, तिरूवल्लूर में २, विल्लुपुरम और नागपट्टिनम में एक-एक शख्स की मौत हुई है। फिलहाल सेना और एनडीआरएफ की टीमें राहत व बचाव कार्य में जुटी हुई हैं।

एनडीआरएफ के डीजी आरके पचनंदा के मुताबिक़ अधिकारियों द्वारा स्थिति पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि स्थिति को बहाल करने के लिए तेजी से काम किया जा रहा है।

मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात वरदा के कमजोर होने के संकेत दिखे है और अगले तीन से चार घंटो में वो ‘चक्रवातीय तूफान’ का रूप ले लेगा।

यह मंगलवार को कर्नाटक पहुंचेगा। फिलहाल कर्नाटक के बेंगलुरू में हल्की बारिश का दौर शुरू हो गया है।राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(एनडीआरएफ) ने उत्तरी तमिलनाडु और दक्षिण कर्नाटक में अगले १२ घंटों में भारी बारिश की आशंका जताई है।

चक्रवात १४ दिसंबर को दक्षिण गोवा से गुजरेगा जिसकी वजह से गोवा में तापमान में बढ़ोतरी होगी और मंगलवार से दो दिनों तक हल्की बारिश होगी।

चेन्नई एयरपोर्ट से विमान सेवा को एक बार फिर से शुरू कर दिया गया है। सोमवार को तूफान के चलते सभी विमान सेवाओं को रद कर दिया गया था।

वहीं चेन्नई, कांचीपुरम और तिरूवल्लूर में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थान आज बंद रहेंगे।लंबी दूरी की बसों को रोक दिया गया है और अधिकतर इलाकों में पेड़ों के उखड़ने और सड़कों पर बिजली के खंभे गिरने के कारण यातायात बाधित है।

महानगर की सभी रेल सेवाओं को रोक दिया गया है। दक्षिण रेलवे ने चेन्नई सेंट्रल और एगमोर से चलने वाली सभी 17 रेलगाड़ियों को रद करने की घोषणा की है।  Cyclones now knock Varada Karnataka,  Cyclones now knock Varada Karnataka,  Cyclones now knock Varada Karnataka,  Cyclones now knock Varada Karnataka.