यदि भारत दलाई लामा की मेजबानी करेगा तो जल्द एक और युद्ध होगा : चीन




चीन ने दलाई लामा की मेजबानी पर भारत को कड़े शब्दो में चेतवानी देते हुए कहा है, यदि भारत तिब्‍बती आध्‍यात्‍मिक गुरु दलाई लामा की मेजबानी करता है तो भारत को गम्भीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे। चीन ने आरोप लगाया कि भारत दोहरी राजनीति कर दोनों देशों के बीच सम्बन्ध को बिगाड़ रहा है। dalai lama india visit

बता दें, इससे पूर्व भारत ने सभी तरह की अटकलों पर पूर्ण विराम लगाते हुए कहा था कि तिब्‍बती आध्‍यात्‍मिक गुरु दलाई लामा का भव्य स्वागत किया जाएगा। भले ही चीन के तिब्‍बती आध्‍यात्‍मिक गुरु दलाई लामा का सम्बन्ध दोस्ताना नहीं है। लेकिन भारत तिब्‍बती आध्‍यात्‍मिक गुरु दलाई लामा का मुरीद है। इसलिए अरुणाचल प्रदेश में स्वागत किया जाएगा और निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार दलाई लामा भारत आएंगे। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि चीन बिना मतलब मामले को तूल दे रहा है। दलाई लामा का भारत यात्रा पूर्व नियोजित है। किसी देश के दबाब में आकर इसे स्थगित नहीं किया जा सकता है। dalai lama india visit 

अरुणचल प्रदेश को लेकर भारत का रवैया किया है

चीनी मीडिया ने भारत के इस फैसले का कड़ा विरोध किया है। चीन के ग्लोब टाइम्स ने लिखा है कि चीन के आपत्ति के बाबजूद भारत अगले सप्ताह तिब्बती गुरु दलाई लामा का मेजबानी कर रहे है। जबकि भारत ये अच्छी तरह से जानता है कि वो तिब्बती गुरु नहीं है बल्कि एक अलगाववादी नेता है। जो तिब्बत में चीन विरोधी तत्वों को आश्रय दे रहा है। dalai lama india visit 

विकास दर में चीन को पछाड़कर भारत शीर्ष पर बरकरार: वर्ल्ड बैंक

गौरतलब है कि चीन और भारत अरुणाचल प्रदेश को लेकर द्वंद में है। जंहा चीन उसे अपना हिस्सा बताता है। वही भारत अब तक स्प्ष्ट नहीं कर पाया है कि आखिर अरुणचल प्रदेश को लेकर भारत का रवैया किया है। कई अवसर पर भारत ने कहा है कि सीमा मानचित्र को लेकर दोनों देशों की अलग-अलग राय है। जिस कारण चीन का मनोबल बढ़ता जा रहा है। dalai lama india visit