फारुख अब्दुला कश्मीर को सीरिया और तालिबान बनाना चाहते हैं





क्या फारुख अब्दुला कश्मीर को सीरिया और तालिबान बनाना चाहते हैं उनके बयान देश और कश्मीर को बर्बादी की तरफ ले जा सकता है यह कहना है जम्मू कश्मीर की सी एम महबूबा मुफ़्ती का इस खबर को नवभारत टाइम्स ने अपने पोर्टल पर डाला है जिसमें कहा गया है की farukh make Kashmir siria

जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने शनिवर को नैशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष और राज्य के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला पर उनके ‘तीसरे पक्ष’ बयान को लेकर पलटवार किया है। महबूबा ने कहा कि अगर अमेरिका ने हस्तक्षेप किया तो कश्मीर की हालत सीरिया और अफगानिस्तान जैसी हो जाएगी। farukh make Kashmir siria



मनमोहन सिंह की कायरता के कारण आज घाटी आग में झुलस रहा है : महबूबा मुफ़्ती

उल्लेखनीय है कि अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा था कि भारत सरकार को कश्मीर मसले के हल के लिए तीसरे पक्ष से मध्यस्थता करानी चाहिए। अब्दुल्ला ने इसके लिए अमेरिका और चीन के नाम का सुझाव दिया था।

महबूबा ने कहा, ‘चीन, अमेरिका अपने काम पर ध्यान दें, हमें पता है कि जिन देशों में उन्होंने हस्तक्षेप किया है, उनकी क्या दशा है।’ मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत से ही कश्मीर समस्या का समाधान हो सकता है।

farukh make Kashmir siria अफगानिस्तान और इराक की स्थिति

उन्होंने कहा, ‘सीरिया, अफगानिस्तान और इराक में आज क्या स्थिति है? क्या फारूक साहब यह सबकुछ हमलोगों के साथ भी होते देखना चाहते हैं?’

उन्होंने कहा, ‘वाजपेयी जी ने लाहौर समझौता में कहा था कि भारत और पाकिस्तान को कश्मीर समस्या के समाधान के लिए वार्ता करनी चाहिए।’ अब्दुल्ला ने कहा था कि भारत के विश्वभर में कई दोस्त हैं, जिनसे कश्मीर समस्या के समाधान में मदद ली जा सकती है और वे भारत-पाक के बीच के मध्यस्थ की भूमिका निभा सकते हैं।

loading…


गैस्ट्रिक-stomach ulcer का इलाज है इतना आसान, नहीं जानते होंगे आप