यदि किसी ने यूपी में गौ हत्या की तो उसे अपराधियों की तरह सजा दी जाएगी : योगी सरकार




उत्तर प्रदेश सरकार गोहत्या पर और सख्त हो गई है। प्रदेश में गोहत्या करने पर एक्ट के तहत कार्रवाई के निर्देश जारी हुए हैं। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनते ही गोहत्या पर सख्त कार्रवाई हुई और अवैध बूचड़खाने को बंद कर दिया गया। उसके बाद कई तरह के सवाल उठाए गए लेकिन सरकार इस दिशा में आगे बढ़ती चली गई। अब उत्तर प्रदेश में गोहत्या और गो तस्करी करने वालो के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश जारी किए हैं। gau htya krne vaalo ko bksha nahi jayega 

पूर्वोत्तर राज्यों में गोहत्या पर प्रतिबंध नहीं है

गोहत्यारों पर नेशनल सिक्योरिटी एक्ट यानी एनएसए के गैंगस्टर एक्ट के तहत सजा दी जाएगी। यूपी के डीजीपी सुलखान सिंह ने प्रदेश के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देश जारी कर दी है। सुलखान सिंह ने वरिष्ठ ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की थी जिसके बाद यह फैसला लिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ही गोहत्या पर प्रतिबंध लगाने के पहले ही सख्त आदेश दिए थे। gau htya krne vaalo ko bksha nahi jayega 

योगी ने सरकार बनते ही अवैध बूच़ड़खाने को बंद करवा दिया

जिसके बाद प्रशासन लगातार सख्त कार्रवाई कर रही है। डीजीपी के निर्देश के बाद अब गोवध या गो तस्करी के आरोपियों पर एनएसए लगाया जाएगा। गौरतलब है कि इस कानून के तहत गोहत्या करने वाले आरोपियों को तीन महीने या उससे अधिक समय के लिए सजा हो सकती है। इस फैसले को लेकर अलग अलग तरह की प्रतिक्रियाएं आने लगी हैं। देश के विभिन्न हिस्सों में गो वध पर बने कानून के लिए विरोध हो रहा है। gau htya krne vaalo ko bksha nahi jayega 

योगी आधुनिक भारत के जूनियर मोदी है : बाबा रामदेव

जिसमें वध को लेकर खरीद फरोख्त को लेकर रोक लगाई गई है। जिसके बाद केरल सहित अन्य प्रदेश में अभी हंगामा भी हुआ है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने सरकार बनते ही अवैध बूच़ड़खाने को बंद करवा दिया जिसके बाद भाजपा की सरकार की काफी वाहवाही हुई। वहीं मेघालय जैसे कई पूर्वोत्तर राज्यों में गोहत्या पर प्रतिबंध नहीं है। जिसपर भाजपा की चुप्पी है। अब जब उत्तर प्रदेश में सख्त कानून के तहत कार्रवाई होगी तय है कि अन्य राज्यों में भी इस तरह के कार्रवाई करने की मांग उठेगी। gau htya krne vaalo ko bksha nahi jayega