मैं राष्ट्र के खिलाफ हूँ क्योंकि सरकार की वजह से मेरे पापा की जान गई : गुरमेहर कौर





पिछले साल 9 फरवरी को जेनयू में एक कार्यक्रम के दौरान छात्र संघ के अध्यक्ष कनैह्या कुमार समेत पाँच अन्य छात्र ने देशविरोधी नारे और अफजल गुरु ज़िंदाबाद के जयकारे लगाया था। जिसके बाद से पुरे देश में कनैह्या कुमार की खूब आलोचना की गयी। दिल्ली पुलिस ने कनैह्या कुमार सहित अन्य पांच के खिलाफ प्राथमिक सुचना शिकायत दर्ज कर कन्हैया कुमार को गिरफ्तार किया था। लोगों का आक्रोश थमने का नाम नहीं ले रहा था। gurmeh said indian govt killed father 

जब पुलिस कन्हैया कुमार को अदालत में पेशी के लिए ले जा रही थी तो लोगों ने कनैह्या कुमार की जमकर धुनाई की थी। कुछ महीने तक अस्पताल और जेल की हवा खाने के बाद जब कनैह्या कुमार ने देश से माफ़ी मांगी। तब जाकर अदालत ने कन्हैया कुमार को रिहा किया। कन्हैया कुमार के रिहा होने के बाद दिल्ली पुलिस ने उमर खालिद को गिरफ्तार किया था। अब जबकि दिल्ली पुलिस ने जेनयू पर पूरी तरह से नकेल कस ली है तो असमाजिक तत्व के लोग पब्लिक प्लेस पर इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहे है। जिसमें कुछ विपक्षी पार्टी का भी सहयोग है। जैसे जेनयू में पिछले साल राहुल गाँधी, केजरीवाल और प्रकाश करात ने की थी। gurmeh said indian govt killed father 

वो ABVP से नहीं डरती है

पिछले सप्ताह दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें उमर खालिद को बुलाया गया था। लेकिन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने इसका विरोध किया। ABVP का विरोध करना जायज था। क्योंकि इसी खालिद ने जेनयू में देश विरोधी नारे लगाए थे। जिस कारण आज जेनयू देश विरोधी लोगों का अड्डा बन गया है। gurmeh said indian govt killed father 

जब उमर खालिद अपने कुछ साथियों के साथ दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज पहुंचे। वंहा, पहले से संगठित अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के कार्यक्रताओं ने जमकर विरोध किया। उमर खालिद के समर्थकों ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् पर हमला बोल दिया। जिससे दोनों गुटों में हिंसक झड़प हुई। gurmeh said indian govt killed father 

भारत का सबसे बड़ा दुश्मन आरएसएस है और उसे ख़त्म करके रहेंगे : मणिशंकर अय्यर

हिंसक झड़प के बाद डीयू की एक छात्रा गुरमेहर कौर ने शांति स्थापित करने के बजाय मामले को तूल दे रही है। हालांकि, उनकी बातो में कितनी सच्चाई है। ये तो जाँच के बाद पता चलेगा। लेकिन वर्तमान परिवेश में जिस तरह का बयान गुरमेहर ने दी है। वो अशोभनीय है। gurmeh said indian govt killed father 

गुरमेहर ने पहले कहा, उनके पिता कारगिल युद्ध में शहीद भारत सरकार की गलतियों के कारण हुई। पाकिस्तानी सेना ने उनके पापा को नहीं मारा है बल्कि युद्ध के कारण उनके पिता शहीद हुए। वही अब गुरमेहर का कहना है कि जबसे वो सोशल साइट पर अपनी पिक्चर अपलोड की है। तब से उसे रेप और जान से मारने की धमकी मिल रही है। gurmeh said indian govt killed father 

आपको बता दें कि गुरमेहर और शहीद कप्तान की बेटी है और श्री राम कॉलेज में पढ़ती है। इससे पूर्व भी गुरमेहर ने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर एक तख्ती के साथ फोटो अपलोड की थी। जिसमें लिखा था कि वो ABVP से नहीं डरती है। पूरा देश उसके साथ है। gurmeh said indian govt killed father 

( प्रवीण कुमार )