हर घर को भाजपा से जोड़ने निकले अमित शाह





भाजपा ने लगातार अपनी पार्टी को विस्तार करने में लगी है। इसी संदर्भ में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राजस्थान के कार्यकर्ताओं को दिया जीत का मूल मंत्र। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राजस्थान में पार्टी ने विस्तारक योजना लागू कर दी है। अमित शाह ने पार्टी को विस्तार करते हुए बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करने के लिए योजनाओं को लागू किया है। har ghar ko BJP se jodhne nikle amit shah

har ghar ko BJP se jodhne nikle amit  अमित शाह की विस्तारक योजना

अमित शाह ने पार्टी के कार्यकर्ताओं से कहा है कि अगर 25 साल तक सत्ता में रहना है तो बूथ को मजबूत बनाओ और यही मूल मंत्र है जिससे जीत हासिल किया जा सकता है। अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं से कहा है कि वे पार्टी विस्तारक योजना को ठीक ढ़ंग से लागू करे। तभी जीत हासिल की जा सकती है। अमित शाह ने संगठन में एक नई ऊर्जा भर दिए। har ghar ko BJP se jodhne nikle amit shah





इनकी शैली पर सभी कायल हो जाते हैं। खास बात यह है कि अमित शाह किसी भी समस्या का वहीं समाधान खोजते हैं। और वे कार्यकर्ताओं को ही अहमियत देते हैं। जिससे उनकी जीत होती रही है। उन्होंने तीन दिनों तक वहीं कार्यकर्ताओं के साथ रहे। जिससे उनकी समस्याओं का निदान भी किया गया। har ghar ko BJP se jodhne nikle amit shah

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने 4 मजदूरों की मौत पर संवेदना व्यक्त की

इस दौरान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे खुद मॉनिटरिंग करती देखीं गई। हर बैठक में खुद वे मौजूद भी रही। इस दौरान अमित शाह ने मंत्रियों से साफ तौर पर कहा है कि संगठन के कामकाज को भी वे खुद देखें और बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं से मुलाकात करें। उन्होंने साफ कहा कि अगर बूथ स्तर पर हम मजबूत नहीं हुए तो सरकार के कामकाज भी हमें जीत नहीं दिला पाएगी। har ghar ko BJP se jodhne nikle amit shah

गौरतलब है कि राजस्थान में पार्टी ने विस्तारक योजना लागू कर दी है। इसके तहत विस्तारकों का चयन कर उन्हें बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करने के लिए भेजा जा रहा है। अमित शाह ने साफ संदेश दिया है कि इसे गंभीरता के साथ निभाए। यहां तक अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को परिवहन की सुविधा देने को तैयार हो गई है क्योंकि यह मुद्दा उठा था। har ghar ko BJP se jodhne nikle amit shah

ताम्बे बर्तन में पानी पीने के चौकाने वाले फायदे

गौरतलब है कि राजस्थान में अगले वर्ष चुनाव होगी। कांग्रेस भी यहां जोरदार मुकाबले के लिए तैयार है। वहीं राजस्थान भाजपा में मुख्यमंत्री बदलने की भी मांग उठी थी जिससे अमित शाह ने साफ इंकार कर दिए। har ghar ko BJP se jodhne nikle amit shah

loading…