दिल्ली की खातिर विपक्ष में भी बैठने को तैयार हूँ : केजरीवाल




आम आदमी पार्टी को लगातार झटके लग रहे हैं। इस बार फिर कोर्ट ने इवीएम मशीन के मामले में उन्हें झटके दे दिए। उच्च न्यायालय ने आम आदमी पार्टी की याचिका को खारिज कर दिया है जिसमें उसने यह मांग की थी कि ईवीएम मशीन में गड़बड़ी के मद्देनजर इसमें वीवीपैट मशीन जोड़ दिया जाए। आम आदमी पार्टी का कहना है कि इससे गड़बड़ी की आशंका कम होगी। लेकिन अब चुनाव के दिन कम होने की वजह से आम आदमी पार्टी की यह दलील कोर्ट ने नामंजूर कर दिया। high court reject kejriwal plea 

ईवीएम पर सवाल उठाए गए

कोर्ट ने इस दलील को माना की अब चुनाव में कुछ ही दिन बचे हैं ऐसे में चुनाव प्रक्रिया में बदलाव नहीं लाया जा सकता है। चुनाव आयोग की दलील है कि जिस तरह से ईवीएम मशीन पर सवाल उठाए जा रहे हैं इससे जनता के बीच गलत संदेश संदेश जाएगा। आम आदमी पार्टी के चुनाव चिह्न पर लड़ रहे एक और प्रत्याशी मोहम्मद ताहिर ने याचिका दायर की थी कि ईवीएम मशीन में गड़बड़ी पैदा की जाती है। high court reject kejriwal plea 

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को बड़ी जीत हासिल हुई है उसके बाद लगातार यह कहा जाने लगा कि ईवीएम में गड़बड़ी की गई है। जिसके बाद लगातार यह कहा जा रहा है कि आखिर कैसे भाजपा को इतनी बड़ी जीत हासिल हुई है जिसमें कई मुस्लिम इलाके में जबरदस्त वोट हासिल हुई भाजपा को। high court reject kejriwal plea 

मैं राष्ट्रपति पद के लिए काबिल नहीं हूँ, शरद यादव परफेक्ट कैंडिडेट है : सोनिया गाँधी

तृणमूल कांग्रेस के नेता ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल ने इसके लिए लगातार विपक्ष को एकजुटता भी प्रदर्शित किए हैं। ईवीएम को लेकर सवाल उठाए हैं। इसके लिए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात भी किए। इनकी मांग है कि अब आगे के जो भी चुनाव हो वह मत पत्र से कराए जाएं। अभी नगर निगम में चुनाव 23 अप्रैल को है। high court reject kejriwal plea 

जिसमें ईवीएम के साथ वीवी पैट मशीन लगाने की बात कही जा रही थी जिसके लिए न्यायालय ने याचिका को खारिज कर दिया। जिससे आम आदमी पार्टी को झटके लगे हैं। गौरतलब है कि अभी राजौरी गार्डेन में हुए विधानसभा उपचुनाव में आम आदमी पार्टी का जमानत जप्त हो गई जिसके बाद से ईवीएम पर और सवाल उठाए गए। high court reject kejriwal plea