मैंने चोरी या सीनाजोरी से धन नहीं कमाया है : मीसा यादव




राजद सुप्रीमो के बेनामी संपत्ति को आईटी विभाग ने जब्त कर लिया गया। इसके बाद सांसद मीसा भारती आयकर विभाग के सवालों का जवाब देने पहुंची। जहां उनसे सात घंटे तक पूछताछ हुई। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बड़ी सुपुत्री मीसा यादव आईटी के दो बार समन के बाद भी आईटी के सामने पेश नहीं हुई। जिसके बाद आईटी विभाग ने 175 करोड़ के बेनामी संपत्ति को जब्त कर लिया। जिसके बाद मीसा यादव आईटी दफ्तर पहुंची जिनसे विभाग ने करीब सात घंटे तक पूछताछ की। income tax take remand misa yadav 

बेनामी संपत्ति का खुलासा हो सके

आईटी विभाग के 10 प्रश्नों के जवाब उन्हें देने पड़े। जिसमें उन्हें सीए राजेश अग्रवाल से लेकर लोन लेने तक की जानकारी हासिल की गई। मीसा भारती से उनका पैन कार्ड नंबर भी पूछा गया। गौरतलब है कि मीसा भारती लालू प्रसाद यादव की बड़ी पुत्री हैं और वे राज्यसभा सांसद हैं। income tax take remand misa yadav 

लालू यादव लगातार इस कोशिश में लगे रहे कि पूरे परिवार को कहीं न कहीं इस तरह से सेट किया जाए कि बिहार में उनका वर्चस्व कायम रहे। लेकिन हाल में फिर से जमीन घोटाले में उनके परिवार का नाम आया है जिसको लेकर लालू यादव तिलमिला गए हैं। income tax take remand misa yadav 

12 प्लाटों को भी अटैच किया है

उन्होंने इसके लिए मीडिया को भी लताडा है और यहां तक कि भाजपा नेता सुशील मोदी के भाई पर भी आरोप लगाए हैं लेकिन उनके पास पुख्ता सबूत हाथ नहीं लगे हैं। मीसा भारती ने आईटी के पास पेश हुई लेकिन उनके पति शैलेश कुमार आयकर विभाग के सामने पेश नहीं हुए। income tax take remand misa yadav 

कोविंद का समर्थन तो बहाना है असल में नितीश कुमार को मोदी से हाथ मिलाना है !

जबकि उन्हें भी दो बार पूछताछ के लिए बुलाया गया था। जिसमें बेनामी संपत्ति का खुलासा हो सके। आईटी विभाग ने लालू प्रसाद के साथ 12 प्लाटों को भी अटैच किया है। लालू यादव का परिवार आय से अधिक संपत्ति के मामले में बुरी तरह से फंसा हुआ है। जिसका जवाब उनके पास नहीं है। income tax take remand misa yadav