चीन ने अरुण जेटली के बयान पर किया पलटवार कहा 56 इंच के सीने को 6 मिली बना देंगे




अमेरिका द्वारा भारत को महत्ता दिए जाने से चीन इधर बौखला गया है। बोर्डर पर अभी दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़े हुए हैं। जहां भारत ने कहा है कि देश की सैन्य क्षमता में पुराने जैसा न आंके चीन। तो उसने भी कहा है कि हम में भी तब्दीलियां आई हैं। indo china relation

indo china relation पाकिस्तान खुश हो रहा है

भात और चीन के बीच सिक्किम बोर्डर पर छिड़ा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। चीन बोर्डर पर अड़ियल रवैया अपनाए हुए हैं ऊपर से इसका ठीकरा भारत पर ठोक रहा है। चीन विदेश मंत्रालय कह रहा है कि भारत की ओर से बोर्डर पर उठाए जा रहे कदम किसी विश्वासघात से कम नहीं है। indo china relation





स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए यंहा क्लिक करें

गौरतलब कि चीन ने भारत को धमकी देते हुए कहा था कि 1962 के युद्ध से सीख ले भारत। इसके जवाब में रक्षा मंत्री ने चीन को भी आगाह करते हुए कहा है कि 1962 वाला भारत नहीं है। उस समय चीन से भारत अपने सैन्य क्षमता विकसित न होने के कारण हार गया था। लेकिन अब भारत काफी सशक्त है और सैन्य क्षमता किसी भी देश से कम नहीं है। indo china relation 

चीन बौखलाया हुआ है

वहीं इजरायल और अमेरिका लगातार भारत को सैन्य सप्लाय कर रहे हैं जिससे देश काफी मजबूत हुआ है। इसी कारण से चीन बौखलाया हुआ है। तत्कालीन जो विवाद है वह भूटान से है लेकिन भारत भूटान को रक्षा सहयोग करता है। सिक्किम से लगती सीमा पर असल विवाद की जड़ है डोकुला का वो चौराहा जो भारत चीन और भूटान को एक साथ जोड़ता है। indo china relation 

आतंकी सलाहुद्दीन ने दी भारत को धमकी कहा यदि शरीफ साथ दे तो कश्मीर को चंद दिनों में आजाद करा लूंगा

इसी इलाके में निर्माण को लेकर दोनों भारत और चीन आमने सामने है। भारत इसे गंभीरता से लेते हुए बोर्डर पर तीन हजार सैनिकों की तैनाती कर दी है। और चीन को चेतावनी दी है कि वह हल्के में अब हमें न लें। भारत और चीन के इस तनाव से हालांकि पाकिस्तान खुश हो रहा है लेकिन जिस तरह से अमेरिका ने उसपर नकेल कस रहा है जिससे भी चीन बौखलाया हुआ है। indo china relation 

loading…