2018 में मैं मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनूंगा और 2019 में राहुल गाँधी देश के प्रधानमंत्री बनेंगे : ज्योतिरादित्य सिंधिया




हिमाचल प्रदेश के नगर निकाय चुनाव के नतीजों से एक फिर स्पष्ट हो गया है कि देश में मोदी लहार जारी है। इसकी पुष्टि हिमाचल की जनता ने की है। जब जनता जनार्दन हिमाचल प्रदेश ने नगर निकाय के 34 सीटों में से 17 सीटों पर बीजेपी को विजयी बनाया। जनता के जनादेश का कद्र करते हुए पीएम मोदी ने ट्विटर हैंडल पर आभार प्रकट किये। उन्होंने कहा, देश विकास की मार्ग पर अग्रसर है और जनता से सीधा सवांद देश के लिए फायदेमंद है। यह जीत बीजेपी की नहीं बल्कि जनता की जीत है। Jyotiraditya scindia will next mp cm 

गौरतलब है कि पिछले 30 साल में पहली बार बीजेपी को हिमाचल प्रदेश नगर निकाय चुनाव में प्रचंड बहुमत मिली है। हिमाचल में मेयर बनने के लिए बीजेपी को सिर्फ एक सीट की आवश्यकता है जोकि संभव सा प्रतीत होता है। वही दूसरी ओर कांग्रेस की नजर भी हिमाचल पर थी किन्तु कांग्रेस को फिर से मुँह की खानी पड़ी। कांग्रेस इस समय बेबस नजर आ रही है। मोदी की तोड़ को ढूंढने में कांग्रेस पूरी तरह से विफल हो रही है। Jyotiraditya scindia will next mp cm 

राहुल गाँधी ज्योतिरादित्य सिंधिया पर दांव खेल सकते है

हालांकि, अगले महीने राष्ट्रपति चुनाव होने है जिसको लेकर विपक्ष और सत्ता धारी पार्टी में तकरार जारी है लेकिन वर्तमान परिवेश को भांपते हुए ऐसा प्रतीत होता है कि देश के अगले भावी राष्ट्रपति बीजेपी के मुताबिक होगा। इसके अतिरिक्त इस वर्ष गुजरात में विधान सभा चुनाव होने है। जिसकी तैयारी सभी प्रमुख पार्टियों ने शुरू कर दी है। वही अगले वर्ष मध्यप्रदेश और राजस्थान में चुनाव भी होने है। Jyotiraditya scindia will next mp cm 

विदित रहे कि गुजरात विधान सभा चुनाव के लिए कांग्रेस के पास पीएम मोदी के उम्मीदवार को टक्कर देने वाला उम्मीदवार नहीं है। वही राजस्थान और मध्यप्रदेश के लिए कांग्रेस के पास ढेर सारा विकल्प है। राजस्थान के लिए सचिन पायलट और अशोक गहलोत है। जबकि मध्यप्रदेश के लिए जो नाम सार्वजनिक हो रहे है उनमें कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया प्रमुख है। Jyotiraditya scindia will next mp cm 

राहुल गाँधी एक बार युवा नेताओं पर जरूर जिम्मा सौपेंगे।

इस बाबत ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मध्यप्रदेश की राजनीति में जान फुकने की कोशिस शुरू कर दी है। इसका प्रमाण मंदसौर किसान आंदोलन से मिलता है। जब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किसान आंदोलन में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। उन्हें गिरफ्तार भी किया गया, उनके साथ कांग्रेस उपायध्यक्ष राहुल गाँधी भी गिरफ्तार हुए। ऐसे में ज्योतिरादित्य सिंधिया के राजनैतिक हलचल से स्पष्ट होता है कि वो राहुल गाँधी और कांग्रेस के आलाकमान को दिखाना चाहते है कि उनमें राज्य संभालने की कूबत है। राहुल गाँधी का भी सिंधिया परिवार से काफी मधुर संबंध रहे है। ऐसे में राहुल गाँधी के जहन में ज्योतिरादित्य सिंधिया के सीएम उम्मीदवार को लेकर कोई संशय नहीं होगा क्योंकि आने वाले गुजरात विधान सभा चुनाव तक राहुल गाँधी कांग्रेस के अध्यक्ष सर्वसम्मति से चुन लिए जायेंगे। जिसकी घोषणा पूर्व में की जा चुकी है।Jyotiraditya scindia will next mp cm 

देश का अगला प्रधानमंत्री यूपी ( राहुल गाँधी ) का होगा : अखिलेश यादव

बता दें कि राहुल गाँधी ज्योतिरादित्य सिंधिया पर दांव खेल सकते है क्योंकि यदि मध्यप्रदेश और राजस्थान में ज्योतिरादित्य और सचिन पायलट की नेतृत्व में सरकार बनती है तो आने वाले अगले लोकसभा चुनाव में उनके पीएम बनने का दरवाजा खुल जाएगा। ऐसे में राहुल गाँधी एक बार युवा नेताओं पर जरूर जिम्मा सौपेंगे। हालांकि, ये भविष्य के गर्भ और जनता जनार्दन के जनादेश में निहित है कि वो किसे देश के पीएम और गुजरात, मध्यप्रदेश और राजस्थान के सीएम की जिम्मेवारी सौपते है। Jyotiraditya scindia will next mp cm 
( प्रवीण कुमार )