इंडियन आर्मी की वजह से पैदा होते हैं पत्थर फेंकने वाले नौजवान : कविता कृष्णन




जम्मू-कश्मीर में इंडियन आर्मी की मौजूदगी और उनके व्यवहार को लेकर अब भी कई सवाल खड़े किए जा रहे हैं। आज प्रदेश में हालात के लिए इन्हें भी जिम्मेदार बताया जा रहा है। जिसपर राजनीति अब गरमाने लगी है। सीपीआई एमएल के पोलित ब्यूरो के सदस्य कविता कृष्णन ने कहा है कि कश्मीर में जो युवा पत्थर फेंक रहे हैं इसके लिए सेना ही जिम्मेवार है। इसके लिए कोई युवा पाकिस्तान से नहीं आता, ना ही पाकिस्तान इसके लिए प्रशिक्षण देता है। जिस प्रकार की कार्रवाई सेना करती है इसी कारण से युवा आज पत्थर फेंक रहे हैं। kavita krishnan slams indian army 

आम आदमी के पत्थरबाजी से ऑपरेशन सफल नहीं हो पाता है

अगर सेना यहां पर बर्बरतापूर्वक कार्रवाई ना करें तो युवा भी पत्थर नहीं फेंकेंगे। कविता कृष्णन इसके पहले भी कई बार सेना पर ऐसे सवाल खड़े किए थे जिसको लेकर राजनीति गरमा गई थी। अब जब घाटी में एक बार फिर पत्थरबाजों के हौसले बुलंद हैं ऐसे बयान से कई सवाल खड़े हो रहे हैं। पहले ही जिस प्रकार से घाटी में उपचुनाव के दौरान हिंसा हुई जिससे अब प्रदेश सरकार घेरे में है। kavita krishnan slams indian army 

कविता कृष्णन ने कहा है कि भारतीय फौज जिस तरह से घाटी में व्यवहार करती है जिसके कारण ही आम लोग फौज के खिलाफ हो जाते हैं। अगर हो सके तो फौज को बुला लेना चाहिए। जिस तरह की यहां समस्या है इसका राजनैतिक समाधान निकाला जाना चाहिए। इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों को बैठकर बात करने की आवश्यकता है ना कि फौज से इस समस्या का समाधान निकलेगा। फौज की कार्रवाई से और हालात बिगड़ी है जिससे कोई समाधान नहीं निकाला जा सका है। kavita krishnan slams indian army 

मुझे गोली मार दो पर मैं भगवा रंग नहीं पहनूंगा : अखिलेश यादव

गौरतलब है कि अभी फौज पर जिस तरह से कश्मीर के युवाओं ने पत्थर मार रहे हैं और सेना को मारते हुए दिखाया गया उसके बाद ही इस पर कई तरह के बयान सामने आए हैं। जब भी सेना जम्मू कश्मीर में सर्च आपरेशन चलाती है तो आम आदमी के पत्थरबाजी से ऑपरेशन सफल नहीं हो पाता है। kavita krishnan slams indian army