बिहार में चारा चोर और दिल्ली में पानी चोर से परेशान है जनता : मनोज तिवारी




दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने आज पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये कहा कि भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन को राजनीतिक पार्टी का रूप देते हुये अरविन्द केजरीवाल ने स्वयं को एक राजऋषि के रूप में स्थापित करने का एक प्रायोजित अभियान चलाया था और उसके माध्यम से वह दिल्ली की जनता को गुमराह करने में भी कामयाब हुये। kejriwal istifa den 

आम आदमी पार्टी की मान्यता रद्द होनी चाहिए

दिल्ली ने केजरीवाल को एक राजऋषि के रूप में स्वीकार कर व्यवस्था परिवर्तन के लिए सत्ता सौंपी पर दो वर्ष बाद आज केजरीवाल सत्तालोलुप एवं भ्रष्ट राजभोगी के रूप में जनता के सामने खड़े हैं। राजऋषि बनकर ठगने वाले केजरीवाल आज राजभोगी के रूप में जनता के गुनहगार बन गये हैं .kejriwal istifa den  

श्री तिवारी ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल के राजनीतिक सहयोगी लगातार केजरीवाल के निजी एवं उनकी सरकार के भ्रष्टाचार के मुद्दे उठा रहे हैं। दिल्ली भाजपा इन्हीं मुद्दों को लगातार उठाती रही है और हमें खुशी है कि आज देश की जनता एवं मीडिया सभी स्वीकार रहे हैं कि केजरीवाल सरकार देश की भ्रष्टतम सरकार है। kejriwal istifa den 

श्री तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी की स्थापना के समय से ही अरविन्द केजरीवाल ने अपनी पार्टी को राजनीतिक चंदे के मामले में अन्य दलों से बेहतर दर्शाने की कोशिश की थी, वह दैनिक हिसाब से पार्टी वेबसाइट पर चंदा देने वालों की लिस्ट चढ़ाते थे पर गत वर्ष जब इस लिस्ट की गड़बड़ियां पकड़ी गईं तो वेबसाइट से चंदा लिस्ट को हटा दिया गया और कहा गया कि हमें मोदी सरकार परेशान कर रही है। kejriwal istifa den 

सतेंद्र जैन से पहले कपिल मिश्रा जाएगा जेल : संजय सिंह

श्री तिवारी ने कहा कि आज एक समाचार चैनल ने पुनः इस मुद्दे को उठाया है जिसके माध्यम से यह स्पष्ट दिख रहा है कि आम आदमी पार्टी चंदे के तीन खाते रखती है, एक खाता वेबसाइट पर जनता को दिखाने के लिए, एक खाता आयकर अधिकारियों को दिखाने के लिए और एक तीसरा खाता चुनाव आयोग को दिखाने के लिए। kejriwal istifa den 

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पुराने अनुभव और वर्तमान में सामने आये सबूतों के आधार पर दिल्ली भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल आज माननीय मुख्य चुनाव आयुक्त से मिलेगा और उन्हें इस मामले की शिकायत सौंपकर मांग करेगा कि चुनाव आयोग आम आदमी पार्टी के खातों की पूरी जांच कराये और इन अनियमितताओं को देखते हुये आम आदमी पार्टी की मान्यता को रद्द किया जाये। kejriwal istifa den 

श्री तिवारी ने कहा कि यदि आम आदमी पार्टी ने इस तरह तीन खाते रखे हैं तो यह न सिर्फ रिप्रेजेंटेशन आफ पीपल एक्ट 1951 बल्कि चुनाव चिन्ह (आबंटन एवं रिजर्वेशन) नियम 1968 की भी अवहेलना है और इनके अंतर्गत आम आदमी पार्टी की मान्यता रद्द होनी चाहिये।  kejriwal istifa den