केजरीवाल ने मुझे बरबाद कर दिया : प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार




केजरीवाल के पूर्व प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार ने अपने विभाग से वॉलंटरी रिटायरमेंट मांगा है। उन्होंने वॉलंटरी रिटायरमेंट डिमांड के अलावा 12 पेज का लेटर भी लिखा है।जिसमें पूर्व प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार ने लिखा है कि सीबीआई ने जबरदस्ती मुझे फसाया है, मुझे जबरन केजरीवाल के खिलाफ बयान देने लिए मजबूर किया जाता था। सीबीआई के तरफ से यह भरोसा दिया जाता था कि यदि वो केजरीवाल के खिलाफ बयान देगा तो उसे छोड़ दिया जाएगा। kejriwal ruined rajendra kumar 

राजेंद्र कुमार के खिलाफ सीबीआई के पास पुख्ता सबूत है

राजेंद्र कुमार ने लेटर में लिखा है कि सीबीआई ने केजरीवाल के खिलाफ बयान देने के लिए लोगों पर दबाब डाला गया, बहुत से लोगों की पिटाई की गई। मुझे भारतीय सविंधान और प्रशासन में विश्वास था किन्तु अब टूट चूका हूँ। kejriwal ruined rajendra kumar 

मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार की निंदा की !

लेटर में कुमार ने लिखा है कि मैंने अपने जीवन की शुरुवात गरीबी से की, अपनी मेहनत और लगन से मैं इस मुकाम तक पहुंचा लेकिन क्या फायदा हुआ ? इससे बेहतर होता की मैं मेहनत-मजदूरी कर रहता। जिस वक्त मैंने आईपीएस एग्जाम पास किया था उस वक्त माहौल बेहतर था पर अब परिस्थित बदल चुकी है। kejriwal ruined rajendra kumar 

केजरीवाल के झगड़े की वजह से मेरी ज़िन्दगी बर्बाद हो गयी है, सीबीआई ने केजरीवाल और केंद्र सरकार के बीच झगड़े में उन्हें मोहरा बना दिया गया। अब आर-पार लड़ाई में सीबीआई मुझे इस्तेमाल करती है करती है। जिस कारण मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। उन सबका क्या जो मुझे भारत सरकार की तरफ से पब्लिक सर्विसेज में शानदार योगदान के लिए प्राइम मिनिस्टर अवॉर्ड दिया गया था। kejriwal ruined rajendra kumar 

आपको बता दें कि राजेंद्र कुमार के खिलाफ सीबीआई के पास पुख्ता सबूत है जिसे सीबीआई कोर्ट में पेश कर चुकी है। कोर्ट ने सीबीआई के सबूतों के आधार पर पिछले साल अक्टूबर में राजेंद्र कुमार का सस्पेंशन आर्डर 6 महीने के लिए और बढ़ा दिया था। kejriwal ruined rajendra kumar