गुरुवार 26 अप्रैल 2018 को है मोहिनी एकादशी,जानिए कथा




हिन्दू धार्मिक मान्यता अनुसार वैशाख माह में कृष्ण पक्ष की एकादशी मोहिनी एकादशी के नाम से जाना जाता है। इस वर्ष मोहिनी एकादशी गुरुवार 26 अप्रैल 2018 को है। धार्मिक ग्रंथो के अनुसार जब समुद्र मंथन के समय अमृत को लेकर देवताओ और दानवो में विवाद छिड़ गया।

इस विवाद को समाप्त करने एवम दानवो को अमृत से दूर रखने के लिए भगवान विष्णु अति सुन्दर नारी रूप धारण कर देवताओ और दानवो के बीच पहुंच गए। भगवान विष्णु के नारी रूप को देख दानव लोग उनपर मोहित हो गया।

तब भगवान विष्णु जी ने दिग्भ्रमित दानवों से अमृत कलश छीनकर देवताओं को सौंप दिया। तत्पश्चात सभी देवताओं ने अमृत पान किया, जिससे समस्त देवता गण अमर हो गए। जिस दिन भगवान विष्णु ने मोहिनी रूप को धारण किया था उस दिन एकादशी तिथि थी। अतः इस एकादशी को मोहिनी एकादशी कहा जाता है।

मोहिनी एकादशी की कथा 

प्राचीन समय में सरस्वती नदी के तट पर भद्रावती नाम का नगर था जिसमे धृत नामक राजा रहता था। इसी नगरी में एक धनवान वैश्य रहता था जो बड़ा ही धार्मिक प्रवृति का था परन्तु उसके पाँच पुत्र में छोटा पुत्र महापापी था। जो सदैव बुरे प्रवृति में शामिल रहता था।

परशुराम द्वादशी की कथा एवम इतिहास

उसके माता-पिता ने उसे कुछ धन देकर घर से निकाल दिया। माता-पिता से मिला धन कुछ दिनों में समाप्त हो गया। तत्पश्चात धनवान का पुत्र चोरी करने लगा। एक बार धनवान का पुत्र चोरी करते हुए पकड़ा गया। राजा ने नगर से निकाल दिया। वह भटकते-भटकते एक मुनि के आश्रम जा पहुँचा। भूखे-प्यासे वह मुनि से हाथ जोड़ कर बोला। हे मुनि मैं आपके शरण में हूँ। मेरे बुरे कर्मो के कारण सर्वप्रथम मेरे माता-पिता ने घर से निकल दिया।

तत्पश्चात चोरी करने के कारण नगर नरेश ने नगर से निकल दिया। कहा जाऊ तथा कैसे अपने पापो का प्रायश्चित करू। तदोपरांत मुनि ने कहा, वत्स तुम्हारे विनीत भाव से मैं अति प्रसन्न हूँ। बालक, तुम वैशाख माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को मोहिनी व्रत विधि-विधान पूर्वक सम्पन्न करो इससे तुम्हे पापो से मुक्ति मिलेगी तथा विष्णु लोक को प्राप्त करोगे। मुनि के कथानुसार धनवान के पुत्र ने मोहिनी एकादशी का व्रत किया जिससे उसे समस्त पापो से मुक्ति मिल गई तथा मरणोपरांत विष्णु लोक चला गया।

तेज़ धुप में फेस टेनिंग से कैसे बचें | Beauty tips | कालेपन का नुस्खा

एक क्लिक में पाइए देश के बाकी सभी हिस्सों सहित दिल्ली का समाचार (Delhi News In Hindi) सबसे पहले Mobilenews24.com पर। Mobilenews24.com से हिंदी समाचार (Hindi News) और अपने मोबाइल पर न्यूज़ पाने के लिए हमारा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें Mobilenews24.com App और रहें हर खबर से अपडेट।

Delhi News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mobilenews24.com के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।