2019 में बुआ और बबुआ की मदद से पीएम मोदी को तड़ीपार भेजेंगे : लालू यादव




लालू यादव किसी भी कीमत पर भाजपा को शिकस्त देना चाह रहे हैं। 2019 में लोकसभा चुनाव के लिए महागठबंधन बनाने की जुगाड़ में लगे हैं। लालू यादव को अहसास है कि बिना महागठबंधन के भाजपा को देश में हराया नहीं जा सकता। राजद सुप्रीमो व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव ने एक बड़ा सियासी बयान दिया है जिसमें उन्होंने कहा है कि बसपा और सपा यानी मायावती और अखिलेश यादव साथ में आ जाएं तो भाजपा को 2019 में आसानी से हराया जा सकता है। lalu slams apposition party



lalu slams apposition party उस समय धर्मनिरपेक्ष ताकतें बंटी हुई थी

गौरतलब है कि राष्ट्रीय जनता की 21 वीं स्थापना दिवस मना रहा है इसी कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं में उत्साह भरने के लिए ऐसे बयान दिए हैं कि उनके महागठबंधन को 2019 के चुनाव में जीत हासिल होने वाली है। लालू यादव ने कहा कि इसकी जबरदस्त संभावना है कि मायावती और अखिलेश यादव साथ में आएंगें। जिसके बाद 2019 का मैच ओवर समझिए। lalu slams apposition party  

मायावती और अखिलेश यादव एक साथ आने के संकेत दिए हैं। लालू यादव ने 27 अगस्त को पटना में रैली करने जा रहे हैं जिसमें भी दोनों नेता के शामिल होने की संभावना है। लालू यादव ने 2014 में किए गए गलती का भी अहसास है जिसमें जदयू और राजद अलग अलग चुनाव लड़े जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा। lalu slams apposition party  

 

विजया एकादशी की कथा एवं इतिहास

उस समय महागठबंधन नहीं बना था। लेकिन अब लालू यादव को अहसास है कि अगर महागठबंदन टूटा तो उनका अस्तित्व भी खत्म हो जाएगा। इसलिए महागठबंधन को आगे बढ़ाया जाए और इसे उत्तर प्रदेश में प्रयोग किया जाए। तभी भाजपा को हराया जा सकता है। lalu slams apposition party  

मैं इस देश की बहू हूँ और ये देश मेरा है : सोनिया गाँधी

लालू यादव ने कहा कि समान विचारधारा वाले लोगों को एक साथ आना ही होगा। नहीं तो फासीवाद ताकतें हावी हो जाएंगीं। लालू यादव ने राजद के स्थापना दिवस पर 2014 की हार के कारणों को गिनाते हुए कहा कि उस समय धर्मनिरपेक्ष ताकतें बंटी हुई थी जिसका खामियाजा यह निकला कि हम हार गए लेकिन अभी भी एक जुट हो गए तो हमें कोई हरा नहीं सकता। साफ है लालू यादव को यह भी अहसास है कि भाजपा को बिना एकजुट हुए हराया नहीं जा सकता है। lalu slams apposition party

loading…