नवभारत ने की ओछी पत्रकारिता लालू यादव के बेटे को बताया भगवान् कृष्ण !



नववर्ष पर नवभारत टाइम्स हिंदी न्यूज़ एजेंसी ने ओछी पत्रकारिता को प्रदर्शित और प्रकाशित किया है। यह खबर 1जनवरी की है जब नवभारत टाइम्स ने चारा चोर लालू यादव के नौंवी फेल बेटे को भगवान कृष्ण की उपाधि दी। हमारे पास इस खबर की लिंक भी है जिसे आप पढ़ सकते है, खबर पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें।  lalu yadav son krishna getup 

http://blogs.navbharattimes.indiatimes.com/nbtnewsblog/bihar-minister-tej-pratap-yadav-plays-flute-dressed-as-krishna/

आपको बता दें कि नवभारत टाइम्स के द्वारा प्रकाशित इस आर्टिकल में लालू यादव के बेटे को कृष्ण अवतार बताया, नौंवी फेल तेजस्वी प्रसाद वर्तमान में बिहार राज्य के स्वास्थ्य मंत्री है।
नवभारत टाइम्स का तेजस्वी यादव को कृष्ण बताना दुर्भाग्य की बात है, यदि कृष्ण की टोली गोपी से की जाती तो विचारणीय बात नहीं होती। हालांकि, नवभारत टाइम्स के इस आर्टिकल में तेजस्वी को कृष्ण का अवतार बताने का लॉजिक बहुत ही साधारण है। lalu yadav son krishna getup 

तेजस्वी को कृष्ण बताने के लिए कड़ी आलोचना की है

बता दें कि 1 जनवरी को बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव गोपी के गेटउप में थे, हाथ में बांसुरी और मस्तष्क पर मोर का पंख लगाए हुए थे, महज गोपी के गेटउप के लिए नवभारत टाइम्स ने तेजस्वी यादव को भगवान् कृष्ण का अवतार बता दिया। जबकि तेजस्वी यादव ने बताया कि वो पिछले साल वृन्दावन गये थे जंहा उन्हें एक फैन ने मोर का पंख और बांसुरी गिफ्ट में दिया था और फैन ने अनुरोध किया था कि वो इस मोर के पंख को १ जनवरी के दिन पहनूँ और बांसुरी बजाऊं। इसलिए मैंने यह गेटउप किया।  lalu yadav son krishna getup 

तेजस्वी यादव की बातों में कही भी भगवान् कृष्ण का जिक्र नहीं हुआ, न ही उन्होंने गोपी का वर्णन किया। ऐसे में नवभारत टाइम्स का तेजस्वी यादव को भगवान् कृष्ण का अवतार बताना अशोभनीय है। जबकि लोगों ने नवभारत टाइम्स की आर्टिकल में तेजस्वी को कृष्ण बताने के लिए कड़ी आलोचना की है। lalu yadav son krishna getup 
( प्रवीण कुमार )