कांग्रेस-आप की घटिया राजनीति मारे गए आतंकियों पर उठाये सवाल

आप और कांग्रेस की घटिया राजनिति मारे गए आतंकियों पर फिर उठाया सवाल? भोपाल सेंट्रल जेल से भागने वाले आठो आतंकियों को पुलिस द्वारा मुठभेड़ में मरगिराए जाने की कारवाही काबिले तारीफ मानी जा रही है परंतु आप और कांग्रेस इसे साजिश करार दे रही है और इस पर घटिया राजनिति करने पर उतर आयी है । इस खबर को दैनिक जागरण ने प्रकाशित किया है जिसमें कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाए हैं। दिग्विजय सिंह का कहना है कि आतंकी सरकारी जेल से भागे हैं या किसी विशेष योजना के तहत उन्हें भगाया गया है। इसकी जांच होना चाहिए। कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने इस मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की है lousy politics congress aap।

उधर आम आदमी पार्टी की नेता और दिल्ली से अलका लांबा ने ट्वीट कर कहा है कि- पहले आठ आतंकियों का भागा जाना और फिर एनकाउंटर में एक साथ मारे जाना। इसके लिए मप्र सरकार के पास ‘व्यापमं’ फार्मूला था।

भोपाल मुठभेड़ में SIMI के 8 आतंकी ढेर, फरार होने की जांच NIA करेगी

दिग्विजय सिंह ने सिमी और बजरंग दल की तुलना की, उन्होंने कहा कि दोनों की संगठन शांति भंग करने का काम करते हैं। इन दोनों ही संगठनों पर बैन लगा की सिफारिश मैंने तब एनडीए सरकार से की थी, लेकिन अब तक केवल सिमी पर ही बैन लग पाया है।

कांग्रेस के एक और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए कहा कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, इस तरह की घटना खंडवा में भी थी। उन्होंने कहा कि आशचर्य की बात है कि बार बार ऐसी घटनाएं मध्य प्रदेश में ही क्यों हो रही है?

अब इन लोगों को आतंकियों की इतनी चिंता है तो इन्हें चाहिए की ये उस पुलिस वाले के घर जाकर देखे जिसे मर कर ये आतंकी जेल से भागे थे मैं तो कहता हूँ की आतंकियों के इनकांटर से पहले आप और कांग्रेस के इन गद्दारों का काउंटर कर दिया जाये न रहे बस न बजे बासुरी। lousy politics congress aap lousy politics congress aap lousy politics congress aap