राहुल गाँधी मेरे बेटे समान है वे कांग्रेस की विरासत को आगे ले जाएंगे : मनमोहन सिंह




कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस हेड क्वार्टर में नामांकन भरा। हालांकि, उनके विरोध में किसी कांग्रेसी नेता ने नामांकन नहीं किया। इस अवसर कांग्रेस अध्य्क्ष सोनिया गाँधी, पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी और पूर्व प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह मौजूद थे। manmohan singh praise rahul gandhi

शहजाद ने सच सार्वजनिक की है manmohan singh praise rahul gandhi

बता दें राहुल गाँधी का निर्विरोध अध्यक्ष चुना जाना तय है क्योंकि उनके विरोध में कोई कांग्रेसी नेता नहीं है। इस बारे में पूर्व प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि राहुल गाँधी कांग्रेस के प्रिय नेता है वे कांग्रेस की विरासत को आगे ले जाएंगे। इस बारे में कोई दो राय नहीं है कि कांग्रेस पार्टी में उनसे अधिक समझदार और प्रखर युवा नेता कोई और है। इसलिए पार्टी ने सर्वसम्मिति से उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष बनाने का फैसला किया है। manmohan singh praise rahul gandhi

आप बताओ क्या वाकई में राहुल गाँधी मुझे धोखा दे रहे है

विदित रहे कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे है। उनकी अस्वस्थता को देखते हुए पार्टी ने अध्यक्ष पद की कमान राहुल गाँधी को सौपने की ठानी है। इस बारे में स्वंय सोनिया गाँधी ने कहा कि राहुल गाँधी इस जिम्मेवारी को बखूबी निभा सकते है। हालांकि, ये फैसला पार्टी करेगी कि किसे पार्टी का अध्यक्ष बनाना है। manmohan singh praise rahul gandhi

वही इस सबके बीच कांग्रेस के युवा नेता शहजाद पूनावाला ने राहुल गाँधी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने राहुल गाँधी पर वंशवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी में वंशवाद है। ये तो पूर्व से तय है कि राहुल गाँधी ही कांग्रेस अध्यक्ष बनेंगे। इसमें कोई संशय नहीं है। जबकि पीएम मोदी ने शहजाद पूनावाला की तारीफ करते हुए कहा कि शहजाद ने सच सार्वजनिक की है।कांग्रेस नेता ने अध्यक्ष पद के चुनाव में हो रही धांधली को उजागर कर दिया है। इससे कांग्रेस के चरित्र का पता चलता है। manmohan singh praise rahul gandhi

( प्रवीण कुमार )

फेटी लीवर का रामबाण नुस्खा