सोनू निगम को जूते मारने वाले को मिलेगा दस लाख का इनाम।




सोनू निगम ने अजान पर दिए गए बयान के बाद कई तरह के विवाद उत्पन्न हो गए हैं अब मुस्लिम संगठन लगातार फतवा जारी कर रहा है। प्रसिद्ध गायक व एंकर सोनू निगम के अजान पर दिए गए विवादास्पद बयान के बाद लगातार हमले हो रहे हैं। मुस्लिम नेता व पश्चिम बंगाल अल्पसंख्यक यूनाइटेड काउंसिल के उपाध्यक्ष सैयद शाह आतेफ अली कादरी ने फतवा जारी कर दिया है। maulana slams sonu nigam 

धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लगनी चाहिए

इन्होंने साफ तौर पर कहा है कि जो गायक सोनू निगम को पुराने जूतों की माला पहनाएगा उसे दस लाख रुपए ईनाम दिए जाएंगें। इस तरह के बयान देना कहां तक उचित है। सोनू निगम किसी पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर ऐसे बयान दिए हैं। maulana slams sonu nigam 

कादरी ने साफ तौर पर कहा है कि सोनू निगम संविधान का अपमान किया है जिसका विरोध होना ही चाहिए। भारत एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र है और यहां किसी को भी अपने धर्म के साथ रहने की इजाजत है। सोनू निगम सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए ऐसे बयान दिए हैं। इन्हें तत्काल रूप से देश निकाला दिया जाना चाहिए। भारत में सभी धर्मों का पालन होता है। सोनू निगम के बयान के बाद कई मुस्लिम संगठनों ने विरोध जताया है और फतवा जारी किया है। maulana slams sonu nigam 

मुस्लिमों की खातिर मैं भी वंदे मातरम और भारत माता की जय नहीं बोलूंगा : राहुल गाँधी।

गौरतलब है कि सोनू निगम मस्जिद में सुबह सुबह दिए जाने वाले अजान पर बयान दिया था कि इससे उनके नींद में खलल पड़ती है। आखिर क्यों किसी के नींद में खलल पड़े। सोनू निगम ने एक साथ कई ट्वीट किए आखिर क्या मोहम्मद साहब जब थे तो क्या लाउडस्पीकर का अविष्कार हुआ था। maulana slams sonu nigam 

इस तरह के अजान पर तत्काल रोक लगा देनी चाहिए। आखिर क्यों नहीं इस तरह के धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लगनी चाहिए। सोनू निगम के इस बयान के बाद लगातार मुस्लिम संगठन लगातार विरोध जाहिर किया है। अब जब देश में तीन तलाक के मुद्दे पर लगातार मुस्लिम संगठन पर प्रहार हो रहे हैं ऐसे में सोनू निगम के बयान ने आग में घी का काम किया है। maulana slams sonu nigam